×

अंतरिक्ष में गया प्यारा सा डायनासोर

बेनकेन ने उड़ान के दौरान कहा कि अपने बच्चों को रोमांचित और खुश करने के लिए एक बढ़िया मौका था। वे अपने खिलौने को अंतरिक्ष की यात्रा के विचार से ही बहुत रोमांचित थे।

Shivani Awasthi
Updated on: 31 May 2020 3:41 PM GMT
अंतरिक्ष में गया प्यारा सा डायनासोर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली। नासा और स्पेस एक्स की ऐतिहासिक अंतरिक्ष उड़ान में एक प्यारा डायनासोर भी साथ गया है। ये एक नन्हा सा कपड़े का खिलौना है। जो अंतरिक्ष यात्राओं में स्टफ्ड यानी रूई भरे खिलौने भेजे जाने की परंपरा का हिस्सा है। स्पेस एक्स के अंतरिक्ष यात्री बॉब बेनकेन और डग हर्ले के साथ ड्रैगन कैप्सूल में डायनासोर वाला खिलौना भी गया है।

अंतरिक्ष यात्रियों के साथ डायनासोर ने भरी स्पेस एक्स से उड़ान

दरअसल, दोनों अंतरिक्ष यात्रियों के एक एक बेटा है और ये बच्चे डायनासोर प्रेमी हैं। डायनासोर की जानकारी, खिलौने, फोटो, आदि एकत्र करना इनकी हॉबी है।

स्पेस एक्स की उड़ान से पहले इन लड़कों ने अपने सभी डायनासोर खिलौने इकट्ठा किये और ट्रेमर नामक खिलौने को अंतरिक्ष यात्रा के लिए चुना गया।

ये भी पढ़ेंः NASA के साथ भारत की ये कंपनियां: मिलकर देंगी कोरोना को मात, शुरू किया ये काम

बेनकेन ने उड़ान के दौरान कहा कि अपने बच्चों को रोमांचित और खुश करने के लिए एक बढ़िया मौका था। वे अपने खिलौने को अंतरिक्ष की यात्रा के विचार से ही बहुत रोमांचित थे।

ये भी पढ़ेंः नासा की भविष्यवाणी: भूकंप से दहल जाएगी दिल्ली, जानिए क्या है असलियत

अंतरिक्ष उड़ान से पहले ही इस खिलौने की झलक लोगों को मिल गई थी और एक वैज्ञानिक ने तो इस डायनासोर की नस्ल तक बता दी थी। जब अंतरिक्ष यान पृथ्वी की कक्षा में पहुंच गया तो स्पेस एक्स के स्टोर में 25 डॉलर कीमत का डायनासोर खिलौना बिक्री के लिए लांच हो गया।

पुरानी परंपरा

अंतरिक्ष यात्राओं में खिलौना भेजे जाने की परंपरा बहुत वर्षों से चली आ रही है। जब अंतरिक्ष यान के भीतर खिलौना हवा में तैरने लगता है तो पता चल जाता है कि यान जीरो गुरुत्वाकर्षण में पहुंच गया है। चूंकि अंतरिक्ष यात्री अपनी सीटों में बंधे होते हैं सो उनके लिए यही एक सिग्नल होता है।

इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पर बहुत पहले से रुई भरे खिलौने भेजे जाते रहे हैं। 2013 में तो अंतरिक्ष यात्री करेन नाइबर्ग ने स्पेस स्टेशन पर रहने के दौरान अपने बेटे के लिए एक खिलौना सिला भी था।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story