×

युद्ध होगा भयानक: तैयार महाशक्तिशाली ताइवान मिसाइल, अब क्या करेगा चीन

चीन से तनाव के बीच ताइवान ने हाल ही में एकदम सटीक हमला करने वाली एयर टू ग्राउंड मिसाइल वान चिएन-2 का परीक्षण किया है। मिसाइल ये इतनी ज्यादा खतरनाक है कि 400 किलोमीटर दूर तैनात चीन के टैंक, तोप, आर्मी बेस और हथियार डिपो को एक पल में ही बर्बाद कर सकती है।

Newstrack
Updated on: 21 March 2021 11:31 AM GMT
युद्ध होगा भयानक: तैयार महाशक्तिशाली ताइवान मिसाइल, अब क्या करेगा चीन
X
मिसाइल को हवाई जहाज से जमीन पर सैकड़ों किलोमीटर दूर दुश्मन के ठिकाने पर पिन प्वाइंट एक्यूरेसी के साथ हमला करने के लिए बनाया गया है।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

ताइपे। बीते कई महीनों से चीन के साथ ताइवान की तनातनी बढ़ती ही जा रही है। ऐसे में साउथ चाइना सी में सैन्य गतिविधियों को मजबूत करने के बाद अब ताइवान ने हाल ही में एकदम सटीक हमला करने वाली एयर टू ग्राउंड मिसाइल वान चिएन-2 का परीक्षण किया है। मिसाइल ये इतनी ज्यादा खतरनाक है कि 400 किलोमीटर दूर तैनात चीन के टैंक, तोप, आर्मी बेस और हथियार डिपो को एक पल में ही बर्बाद कर सकती है।

ये भी पढ़ें...पंचायत चुनाव: आरक्षण सूची का मामला पहुंचा SC, हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती

एक्यूरेसी के साथ हमला करने में सक्षम

दरअसल वान चिएन का चीनी भाषा में मतलब 10 हजार तलवारें होता है। ऐसे में इस मिसाइल को हवाई जहाज से जमीन पर सैकड़ों किलोमीटर दूर दुश्मन के ठिकाने पर पिन प्वाइंट एक्यूरेसी के साथ हमला करने के लिए बनाया गया है। इसमें बड़ी बात यह है कि इस मिसाइल को ताइवान की हथियार निर्माता कंपनी नेशनल चुंग-शान इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने स्वदेशी तकनीक से बनाया है।

arab sea फोटो-सोशल मीडिया

इसके साथ ही वान चिएन-2 मिसाइल की अधिकतम रेंज 400 किलोमीटर दूर तक बताई जा रही है। इस बारे में ताइवान के लिबर्टी टाइम्स के अनुसार, हवाई टेस्ट के सफलतापूर्वक खत्म होन के बाद इस मिसाइल के एक छोटे बैच को बनाने की तैयारियां भी शुरू हो गई हैं।

ये भी पढ़ें...लेटर बम का असर: अनिल देशमुख का राजनीति कॅरियर, उद्धव सरकार की प्रतिष्ठा दांव पर

युद्धाभ्यास जारी रखने का निर्देश

दूसरी तरफ चीन ने भी ताइवान की बढ़ती ताकत को जबरदस्त मुकाबला देने के लिए साउथ चाइना सी में तैनात अपनी दक्षिण थिएटर कमांड को लगातार युद्धाभ्यास जारी रखने का निर्देश दिया हैं।

बता दें, ताइवान की वान चिएन-2 मिसाइल पुरानी वान चिएन-1 का ही अपग्रेडेड वर्जन है। ये वान चिएन-1 मिसाइल की रेंज 200 किलोमीटर है, जिसे ताइवान के लड़ाकू विमानों पर पहले ही तैनात किया जा चुका है।

इसके साथ ही सूत्रों से सामने आई रिपोर्ट के मुताबिक, ताइवान के पास इतनी ज्यादा मिसाइलें मौजूद हैं जो क्षेत्रफल के हिसाब से दुनियाभर में सबसे ज्यादा है। लेकिन ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने इन मिसाइलों की कुल संख्या को आजतक जारी नहीं किया है।

ये भी पढ़ें...यात्रियों के लिए बुरी खबर: होली से पहले रेलवे ने रद्द कर दी ये सभी ट्रेनें, देखें पूरी लिस्ट

Newstrack

Newstrack

Next Story