Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

मरे पाकिस्तान सैनिक: हुआ ऐसा भयानक हमला, हर तरफ नजर आ रही लाशें

इस हमले में मारे गए लोग एक ही परिवार के हैं। उन्होंने कहा यह हमला खशारोड जिले के मुनाजारी गांव को निशाना बनाकर किया गया था। आपको बता दें कि मारे गए लोगों में आठ बच्चे, सात महिलाएं और तीन पुरुष शामिल हैं।

Shraddha Khare

Shraddha KhareBy Shraddha Khare

Published on 11 Jan 2021 12:24 PM GMT

मरे पाकिस्तान सैनिक: हुआ ऐसा भयानक हमला, हर तरफ नजर आ रही लाशें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

तालिबान : अफगानिस्तान में दिल दहलाने वाले कई आतंकी हमले को अंजाम दिया गया है। आपको बता दें कि एक ऐसे ही हमले की खबर सामने आ रही है। इस हमले में पाकिस्तानी मूल के 9 आतंकवादी मारे गए हैं। अफगानिस्तान के रक्षा मंत्री ने इस बात का दवा किया है कि यह हमला शनिवार रात निमरोज प्रांत में आतंकवादियों को निशाना बनाकर किये गए एयरस्ट्राइक में ये आतंकी मारे गए हैं। इसमें 9 लोग पाकिस्तान और 5 तालिबान से जुड़े हुए हैं लेकिन स्थानीय लोगों का दावा है कि इस आतंकी हमले में 18 लोग मारे गए हैं।

18 लोगों के मारे जाने की खबर

गजनीय में प्रांतीय परिषद के प्रमुख बाज मोहम्मद नासिर ने कहा कि इस हमले में मारे गए लोग एक ही परिवार के हैं। उन्होंने कहा यह हमला खशारोड जिले के मुनाजारी गांव को निशाना बनाकर किया गया था। आपको बता दें कि मारे गए लोगों में आठ बच्चे, सात महिलाएं और तीन पुरुष शामिल हैं। बताया जा रहा है पीड़ितों के रिश्तेदार न्याय की मांग कर रहे 18 शवों को लेकर निमरोज की राजधानी जारंज पहुंचे हैं।

एयरफोर्स ने शुरू की जांच

अफगानिस्तान एयरफोर्स की एएनए 215 वीं वाहिनी ने कहा है कि शनिवार रात को खशारोड जिले में तालिबान के ठिकानों पर किए गए हवाई हमले में कई आतंवादी मारे गए हैं। स्थानीय लोगों के आरोप पर एयरफोर्स ने कहा है कि उनकी टीम आम लोगों के हताहत होने पर इस मामले की जांच करने को कहा है।

afganistaan

अफगानिस्तान में सक्रीय पाकिस्तानी

जुलाई में जारी की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक कहा गया कि पाकिस्तान के करीब 6000 से 6500 आतंकवादी पडोसी अफगानिस्तान में सक्रीय है। ज्यादातर लोगों का संबंध तहरीक ए - तालिबान पाकिस्तान से है और यह होने से दोनों देश को खतरा बना रहेगा। वहीं अमेरिका के रक्षा विभाग पेंटागन ने भी अफगानिस्तान पर जारी अपनी रिपोर्ट में अफगानिस्तान और पाकिस्तान के सीमा क्षेत्र को आतंकी संगठनों के लिए सुरक्षित ठिकाना बताया था।

ये भी पढ़ें…31 दिसंबर तक फ्लाइट्स बंद: सरकार ने आज रात से लगाई रोक, नई बीमारी का अलर्ट

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shraddha Khare

Shraddha Khare

Next Story