अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में बिडेन को मिली बढ़त, भड़के ट्रंप ने पोल को फर्जी बताया

फॉक्स न्यूज की ओर से किए गए पोल में राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेटिक दावेदार जो बिडेन को ट्रंप के मुकाबले आठ अंकों की बढ़त दिखाई गई है। फॉक्स न्यूज के पोल के बाद ट्रंप भड़क गए और उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट कर इस पोल को पूरी तरह फर्जी बताया।

अंशुमान तिवारी

वाशिंगटन। अमेरिका में कोरोना महामारी के प्रकोप और बढ़ते आर्थिक संकट के कारण राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चुनावी संभावनाओं पर भी ग्रहण लगता दिख रहा है। हाल में फॉक्स न्यूज की ओर से किए गए पोल में राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेटिक दावेदार जो बिडेन को ट्रंप के मुकाबले आठ अंकों की बढ़त दिखाई गई है। फॉक्स न्यूज के पोल के बाद ट्रंप भड़क गए और उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट कर इस पोल को पूरी तरह फर्जी बताया।

कोरोना संकट से ट्रंप को झटका

जानकारों का कहना है कि फरवरी तक राष्ट्रपति पद के चुनाव में ट्रंप की राह आसान लग रही थी मगर कोरोना संकट ने उनके लिए भारी मुसीबत पैदा कर दी है। अमेरिका में अब तक 16 लाख से अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और 97 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। देश में यह संकट काफी गहरा चुका है और इस संकट के कारण ट्रंप की चुनावी संभावनाओं को भारी झटका लगा है। इस बीच फॉक्स न्यूज की ओर से किए गए एक पोल में बिडेन को ट्रंप के मुकाबले आठ अंकों से आगे बताया गया है।

फॉक्स न्यूज को बिडेन के प्रति समर्पित बताया

फॉक्स न्यूज के पोल के बाद राष्ट्रपति ट्रंप न्यूज़ के पोल कर्ता पर भड़क गये और उसे फर्जी तक बता डाला। उन्होंने इस पोल को लेकर करीब एक दर्जन ट्वीट कर डाले। अपने एक ट्वीट में ट्रंप ने फॉक्स न्यूज पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि एक न्यूज़ चैनल जो बिडेन के प्रति समर्पित दिख रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि फॉक्स न्यूज को फर्जी पोल कराने वाले व्यक्ति को तत्काल नौकरी से बाहर कर देना चाहिए। ट्रंप ने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव के संबंध में फॉक्स न्यूज़ का पोल कभी भी सही नहीं रहा और यह पोल भी सही नहीं साबित होगा।

ये भी पढ़ेंः बदल गया बैंक खुलने का समय! ऐसे चेक करें अपनी ब्रांच की टाइमिंग

तीन दिन झुका रहेगा अमेरिकी झंडा

इस बीच ट्रंप ने कोरोना वायरस के कारण 97 हजार लोगों की मौत के शोक में तीन दिन अमेरिकी ध्वज झुका रहने का एलान किया है। उन्होंने कहा कि मैं कोरोना वायरस के कारण जान गंवाने वाले अमेरिकियों की याद में सभी संघीय इमारतों व राष्ट्रीय स्मारकों पर तीन दिन तक ध्वज आधा झुका रहने का आदेश दे रहा हूं। ट्रंप ने स्कूलों को खोलने की जिद के बीच यह कहकर सबको चौंका दिया कि चर्चों और मस्जिदों को भी जल्द से जल्द खोल दिया जाना चाहिए। हर किसी को ट्रंप के इस बयान पर आश्चर्य हो रहा है क्योंकि अमेरिका अभी भी कोरोना संकट में फंसा हुआ है।

धार्मिक स्थलों को खोलने की जिद

ट्रंप का कहना है कि अब वक्त आ गया है जब हम धार्मिक स्थलों को खोल दें और लोगों को प्रार्थना करने की अनुमति दें। उन्होंने कहा कि अब अमेरिका में प्रार्थनाओं की जरूरत है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि प्रांतों के गवर्नरों के आदेश में मैं दखल नहीं देता। यह सबकुछ उन्हें ही तय करना है कि कब और कैसे पाबंदियां में ढील देनी है। इससे पहले ट्रंप स्कूलों को खोलने की बात भी कह चुके हैं। उन्होंने इस बाबत राज्यों के गवर्नरों को चिट्ठी तक लिख डाली है और उनसे स्कूलों को खोलने के संबंध में प्लान भी मांगा है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।