विजय माल्या को भीड़ ने घेरा, लगे ‘चोर चोर’ के नारे और गालियों से हुआ स्वागत

भगोड़ा विजय माल्या रविवार को भारत-ऑस्ट्रेलिया का मैच देखने के लिए लंदन के ओवल ग्राउंड पहुंचा। मैच खत्म होने के बाद जैसे ही स्टेडियम से बाहर आया तो भीड़ ने उसे घेर लिया और चोर-चोर के नारे लगाए। इस दौरान माल्या की मां ललिता भी साथ थी।

लंदन: भगोड़ा विजय माल्या रविवार को भारत-ऑस्ट्रेलिया का मैच देखने के लिए लंदन के ओवल ग्राउंड पहुंचा। मैच खत्म होने के बाद जैसे ही स्टेडियम से बाहर आया तो भीड़ ने उसे घेर लिया और चोर-चोर के नारे लगाए। इस दौरान माल्या की मां ललिता भी साथ थी।

भीड़ ने बैंकों की रकम वापस करने के लिए नारेबाजी की। माल्या ने मीडिया से कहा, ‘मैं सिर्फ मैच देखने आया हूं। यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि मां को किसी तरह का नुकसान न पहुंचे।’

यह भी देखें… मुजफ्फरनगर: छह वर्षीय बच्चे के साथ किया यौन उत्पीड़न, आरोपी फरार

माल्या पिछले साल सितंबर में भारत-इंग्लैंड के बीच टेस्ट मैच देखने भी ओवल पहुंचा था। तब टीम इंडिया के कुछ समर्थकों ने उसे देखकर ‘चोर-चोर’ के नारे लगाए थे। माल्या इंग्लैंड दौरे पर गई भारतीय टीम से मिलना भी चाहता था, लेकिन तब सरकार ने इसकी इजाजत नहीं दी थी। 2017 में हुई चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान भी माल्या भारत का मैच देखने स्टेडियम पहुंचा था, उस दौरान भी उसे हूटिंग का सामना करना पड़ा था।

रविवार को माल्या ने मीडिया से कहा, ‘मेरी मां भी अब मुझे चोर समझने लगी है।’ प्रत्यर्पण के सवाल पर कहा, ‘अगली सुनवाई की तैयारी चल रही है, जो जुलाई में होगी।’ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में माल्या रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का मालिक था। अब उसका बेटा सिद्धार्थ माल्या यह जिम्मेदारी संभालता है। माल्या के खिलाफ फ्रॉड, मनी लॉन्ड्रिंग, फेमा के उल्लंघन का आरोप है।

यह भी देखें… श्रीनगर: जम्मू एंड कश्मीर बैंक के मुख्यालय पर एसीबी की छापेमारी संपन्न हुई

माल्या पर भारतीय बैंकों के 9,000 करोड़ रुपए का कर्ज बकाया है। उसकी किंगफिशर एयरलाइंस ने बैंकों से लोन लिया था। माल्या मार्च 2016 में लंदन भाग गया। मुंबई की विशेष अदालत (पीएमएलए) उसे भगोड़ा घोषित कर चुकी है। प्रवर्तन निदेशालय देश-विदेश में उसकी संपत्तियां अटैच कर चुका है। लंदन की वेस्टमिन्सटर कोर्ट में माल्या के प्रत्यर्पण का केस चल रहा है।