×

पूर्व पीएम पर फेंका जूता: मची सनसनी, फिर फेंकने वाले का हुआ ये हाल

देश के सर्वोच्च पद पर आसीन नेता सबसे सम्मानित शख्स होता है, वहीं जब पद से हटने के बाद उसकी जूतों से खातिरदारी हो, तो इससे स्पष्ट है कि देश की जनता उस नेता से किस हद तक असंतुष्ट है।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 2 March 2020 4:47 AM GMT

पूर्व पीएम पर फेंका जूता: मची सनसनी, फिर फेंकने वाले का हुआ ये हाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

दिल्ली: किसी भी देश में, वहां के सर्वोच्च पद पर आसीन नेता सबसे सम्मानित शख्स होता है, वहीं जब पद से हटने के बाद उसकी जूतों से खातिरदारी हो, तो इससे स्पष्ट होता है कि देश की जनता उस नेता से किस हद तक असंतुष्ट है। ऐसा ही नजारा रविवार को एक सार्वजनिक समारोह में उस वक्त देखने को मिला, जब एक युवक ने पूर्व प्रधानमंत्री पर जूता फेंक कर मारा। बता दें कि जिस नेता के साथ ऐसा हुआ , वह नेपाल के पूर्व पीएम और सत्ताधारी नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (Communist Party of Nepal) के अध्यक्ष पुष्प कमल दहल प्रचंड (Pushpa Kamal Dahal Prachanda) हैं।

नेपाल के पूर्व पीएम पुष्प कमल दहल प्रचंड पर फेंका गया जूता:

दरअसल, नेताल कम्युनिस्ट पार्टी के अध्यक्ष पुष्प कमल दहल प्रचंड रविवार को एक सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल हुए थे। बता दें कि कम्युनिस्ट नेता भरत मोहन अधिकारी की पहली पुण्यतिथि के अवसर पर यह समारोह आयोजित किया गया था।

ये भी पढ़ें: नीतीश कुमार का सच्चा दोस्त कौन- नरेंद्र मोदी या लालू यादव?

समारोह के दौरान हुई घटना:

समारोह को संबोधित करने के बाद जब वह मंच से अपनी कुर्सी की ओर वापस लौट रहे थे तभी उनपर जूता फेंका गया। हालाँकि पार्टी के नेताओं का इस बारे में कहना है कि प्रचंड को जूता नहीं लगा।

ये भी पढ़ें: राजाओं ​का ‘खतरनाक’ प्यार, जिस्म ने ऐसे किया बर्बाद ‘किधर’ के भी ना रहे

जूता फेंकने वाला युवक गिरफ्तार:

बताया जा रहा है कि प्रचंड पर जूता फेंकने वाला व्यक्ति जुमला जिले में रहने वाला एक युवक (22) है। उसने जूता क्यों फेंका इसकी वजह तो अभी पता नहीं चल सकी है, लेकिन इस बारे में पुलिस ने जानकारी दी कि जूता फेंकने वाला युवक एक पूर्व माओवादी लड़ाके का बेटा है। नेपाल पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर सिंह दरबार पुलिस सर्किल में रखा है।

प्रचंड नेपाल के सबसे सशक्त नेताओं में से एक:

गौरतलब है कि पुष्प कमल दहल प्रचंड ने साल 2017 मई में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। मई तक बतौर पीएम प्रचंड का यह दूसरा कार्यकाल था। वहीं वह नेपाल के 39वें प्रधानमंत्री थे। प्रचंड नेपाल के सशक्त नेताओं में गिने जाते हैं। वे नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी और जनमुक्ति सेना के भी वरिष्ठ नेता हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story