Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

कांप उठी BJP: गोलियों से घायल हुए दिग्गज नेता, लगातार बढ़ रहे अपराध

अपराधियों के आगे प्रशासन भी नाकाम होता नजर आ रहा है। ऐसे में प्रशासनिक व्यवस्था को चुनौती देते हुए अपराधी आए दिन हत्या-गोलीबारी जैसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। इस बार ताजा मामला बिहार के मुंगेर जिले का है जहां बुधवार को अपराधियों ने भाजपा नेता अफजल शम्सी को गोली मारकर घायल कर दिया।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 27 Jan 2021 9:34 AM GMT

कांप उठी BJP: गोलियों से घायल हुए दिग्गज नेता, लगातार बढ़ रहे अपराध
X
मिली जानकारी के मुताबिक, भाजपा नेता और प्रवक्ता अफजल शम्सी बुधवार को तपोखाना बाजार स्थित अपने घर से जमालपुर इवनिंग कॉलेज जा रहे थे।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंगेर: बिहार में अपराध दिन प्रति दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। अपराधियों के आगे प्रशासन भी नाकाम होता नजर आ रहा है। ऐसे में प्रशासनिक व्यवस्था को चुनौती देते हुए अपराधी आए दिन हत्या-गोलीबारी जैसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। इस बार ताजा मामला बिहार के मुंगेर जिले का है जहां बुधवार को अपराधियों ने भाजपा नेता अफजल शम्सी को गोली मारकर घायल कर दिया। जिसके बाद से पूरे राज्य में हड़कंप मच गया।

यह भी पढ़ें...शराब वाली एम्बुलेंस: बलिया से जाती थी बिहार तक, ऐसे होता था काम

गोली मारी

ऐसे में घटना के बारे में मिली जानकारी के मुताबिक, भाजपा नेता और प्रवक्ता अफजल शम्सी बुधवार को तपोखाना बाजार स्थित अपने घर से जमालपुर इवनिंग कॉलेज जा रहे थे। इस बीच हत्या के इरादे से आए अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी और फरार हो गए।

जिसके बाद स्थानीय लोगों की सहायता से उन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी स्थिति चिंताजनक देखते हुए उन्हें पटना पीएमसीएच में भर्ती कर दिया गया।

gun फोटो-सोशल मीडिया

यह भी पढ़ें...चार साल बाद जेल से रिहा हुईं शशिकला, अस्पताल में चलेगा इलाज, इसलिए हुई थी सजा

महकमें में अफरातफरी

दूसरी तरफ भाजपा नेता को गोली लगने की सूचना पाकर सैकड़ों लोग सदर अस्पताल पहुंच गए हैं और नेता के तबीयत संबंधी जानकारी लेने की कोशिश कर रहे हैं। पूरे महकमें में अफरातफरी मच गई है।

वहीं बिहार में बीते कुछ दिनों में आपराधिक घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है। हर रोज आए दिन हत्या गोलीबारी की घटना में प्रशासन की नींद उड़ा रखी है। जबकि सुशासन का दावा करने वाली सूबे की नीतीश सरकार भी अपराध कंट्रोल के मुद्दे पर सवालों के कठघरे में खड़ी दिखाई पड़ रही है। अब प्रशासन पर सवाल उठाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें...ट्रैक्टर परेड हिंसा पर पुलिस का एक्शन: हिरासत में 200 उपद्रवी, क्राइम ब्रांच करेगी जांच

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Desk Editor

Next Story