Top

कांप उठा देश: नहीं सुधर रहा बिहार, बिगड़ते जा रहे और हालात

बिहार में कोरोना वायरस महामारी और बाढ़ दोनों की वजह से हालात बहुत खराब हैं। राज्य में कोरोना वायरस के इलाज की व्यवस्था को लेकर स्वास्थ्य विभाग पहले से ही सवालों से घिरा हुआ है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 29 July 2020 10:43 AM GMT

कांप उठा देश: नहीं सुधर रहा बिहार, बिगड़ते जा रहे और हालात
X
कांप उठा देश: नहीं सुधर रहा बिहार, बिगड़ते जा रहे और हालात
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना। बिहार में कोरोना वायरस महामारी और बाढ़ दोनों की वजह से हालात बहुत खराब हैं। राज्य में कोरोना वायरस के इलाज की व्यवस्था को लेकर स्वास्थ्य विभाग पहले से ही सवालों से घिरा हुआ है। ऐसे में तेजी से फैल रहे इस संक्रमण को लेकर गया में बड़ी लापरवाही सामने आई है। गया की फल्गु नदी के किनारे कोरोना मरीजों के इलाज के दौरान इस्तेमाल किए गए ग्लब्स, पीपीई किट और शव बॉक्स को फेंका जा रहा है। यहां पर अंबार लगा हुआ है।

ये भी पढ़ें... सुशांत की गर्लफ्रेंड फरार: तलाश में जुटी बिहार पुलिस, नहीं मिली अपने घर पर

खुले में इस तरह कोरोना का मेडिकल कचड़ा

गया में हो रही इस लापरवाही का अंदाजा आप इससे भी लगा सकते हैं कि जिन लोगों की कोरोना से मौत हो गई है उनके शव बॉक्स को भी वहीं खुले में छोड़ दिया जा रहा है जिससे संक्रमण वैसे ही इतनी तेजी से फैल रहा है और फैलाने की भरपूर कोशिशे की जा रही हैं। खुले में इस तरह कोरोना के मेडिकल कचड़े को फेंकने की वजह से आसपास के लोग काफी नाराज और डरे हुए हैं।

आपको बता दें कि गया की फल्गु नदी के किनारे जहां कोरोना बीमारी से जुड़ा ये मेडिकल कचड़ा फेंका जा रहा है वहीं श्मशान घाट पर अन्य शवों का भी दाह संस्कार किया जाता है।

अनेदखी और जबरदस्त लापरवाही

साथ ही कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत के बाद उनके शव को जलाने के लिए दूसरे किनारे पर श्मशान घाट बनाया गया है लेकिन नियमों की अनेदखी और जबरदस्त लापरवाही की जा रही है। एंबुलेंस कर्मी वहीं पर, शव बॉक्स, ग्लब्स और पीपीई किट फेंककर चले जाते हैं।

ये भी पढ़ें...राफेल की शानदार एंट्री: भारतीय सेना हुई मजबूत, खुशी में डूबा पूरा देश

संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा

ऐसे में अस्पताल प्रसाशन ने बॉक्स में पैक शव को बॉक्स सहित ही अंतिम संस्कार करने का निर्देश दिया है लेकिन लापरवाही का आलम तो यहां तक है कि उस पूरे क्षेत्र में ग्लब्स,पीपीई किट, और शव का बॉक्स फेंका पड़ा है।

इसके अलावा नदी किनारे फेंका गया पीपीई किट और ग्लब्स नदी में बह कर एक जगह से दूसरे जगह जा रहे हैं जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है।

वहीं इसे लेकर गया के जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने कहा कि नगर निगम को इसकी व्यवस्था करने के लिए निर्देशित किया गया है। साफ सफाई की भी व्यवस्था कराई जा रही है। पूरे सम्मान के साथ पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए भेजा जा रहा है।

ये भी पढ़ें...राम मंदिर पर खतरा: पाकिस्तान हमले की तैयारी में, ऐसे रची पूरी साजिश

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story