Top

बिहार में खतरा बढ़ा: नदियां मचा रहीं तबाही, रेलवे लाइन ठप, संकट में लोग

बिहार में नदियों का जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर पहुंचता जा रहा है। दरभंगा जिले में बागमती नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। जिस वजह से नदी के आसपास के इलाके बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 9 Aug 2020 5:11 AM GMT

बिहार में खतरा बढ़ा: नदियां मचा रहीं तबाही, रेलवे लाइन ठप, संकट में लोग
X
Increased water level of Bagmati river
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

दरभंगा: बिहार में हो रही लगातार भीषण बारिश की वजह से कई जिले बाढ़ग्रस्त हैं। बाढ़ की वजह से लोगों की जिंदगियां अस्त व्यस्त हो चुकी हैं। वहीं दूसरी ओर नदियों का जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर पहुंचता जा रहा है। दरभंगा जिले में बागमती नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। जिस वजह से नदी के आसपास के इलाके बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। नदी के बढ़ते जलस्तर की वजह से रेल परिचालन भी बाधित हो रहा है।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस के बाद बीजेपी को सता रहा विधायकों के टूटने का डर, इसलिए उठाया ऐसा कदम

बागमती नदी का उग्र रूप

दरभंगा हायाघाट प्रखंड के हायाघाट स्टेशन के पास बागमती नदी उग्र रूप लेती जा रही है। हायाघाट स्टेशन के पास रेल पुल संख्या 16 पर बाढ़ के पानी का दबाव होने की वजह से पहले से ही दरभंगा-समस्तीपुर रेल का परिचालन ठप पड़ा हुआ है। यहां पर करीब दो हफ्ते (24 जुलाई) से ही रेल परिचालन ठप है और बाढ़ का पानी लगातार बढ़ता ही जा रहा है। वहीं अब बाढ़ का पानी रेल की पटरी पर भी पहुंचने लगा है। हायाघाट रेल पुल 16 पर पानी का दबाव और बढ़ गया है।

यह भी पढ़ें: खाकीधारियों पर एक्शन: 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड, मिला पीड़ित परिवार को इंसाफ

पानी को आगे बढ़ने से रोकने की कोशिश

माना जा रहा है कि अगर बाढ़ का पानी रेल की पटरियों से जल्दी नहीं उतरा तो इससे रेल की पटरियों को भी नुकसान पहुंच सकता है। वहीं, दूसरी ओर रेल लाइन को बचाने के लिए रेलवे कर्मचारी रेत से भरे बोरे को पटरी पर रखकर पानी को आगे बढ़ने से रोकने में लगे हुए हैं। बता दें कि बिहार में अधिकतर जिले बाढ़ग्रस्त हैं और बाढ़ की वजह से अपना घर छोड़ने पर मजबूर हुए लोगों ने इन रेल पटरियां का ही सहारा लिया हुआ है। रेल पटरी पर पानी आने से इन लोगों की चिंता भी बढ़ गई है।

यह भी पढ़ें: राजनाथ सिंह का बड़ा एलान: भारत हो जाए तैयार, इस अहम मुद्दे पर आज फैसला

Hayaghat Rail Bridge-16

समस्तीपुर के बीच ट्रेन परिचालन पूर्ण रूप से बंद

इसके अलावा बाढ़ के चलते समस्तीपुर के बीच ट्रेन परिचालन पूरी तरह से बंद हो गया है। इन रूट पर जाने वाली ट्रेनों का रूट अगले आदेश तक बदल दिया गया है। अब ये सभी ट्रेनें सीतामढ़ी से होकर जा रही हैं। फिलहाल मौजूदा स्थिति में दरभंगा सीतामढ़ी रेलखंड में अभी खतरा नहीं है। यहां रेलवे का परिचालन जारी है। पानी के बढ़ते दबाव को देखते हुए कुछ दिनों के लिए दरभंगा समस्तीपुर रेलखंड का चालू होना फिलहाल संभव नहीं दिखाई दे रहा है।

यह भी पढ़ें: मंदिर निर्माण के लिए दिल खोलकर मदद, पुणे के छात्रों ने दिया इतना बड़ा योगदान

रेलवे सभी स्थितियों पर रख रही नजर

वहीं दरभंगा रेल के सहायक इंजीनियर दिलीप कुमार ने भी यह स्वीकारा है कि रेल पुल पर पहले से ही बाढ़ के पानी का दबाव था। अब रेल की पटरियों पर भी पानी आ गया है। उन्होंने कहा कि इस हालात का समय-समय पर निरीक्षण किया जा रहा है और इस सभी स्थितियों पर रेलवे की नजर बनी हुई है।

यह भी पढ़ें: Wedding Pics: शादी के बंधन में बंधे राणा दग्गुबाती और मिहिका, शामिल हुए ये लोग

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story