Top

संकट तेजी से बढ़ा: डैम के टूट से बिजली उत्पादन ठप्प, फसल को भी नुकसान

भागलपुर के कहलगांव में एनटीपीसी (NTPC) का थ्री डी ऐश डाइक तटबंध क्षतिग्रस्त होने से प्रबंधन को सात में से चार यूनिट बिजली का उत्पादन बंद करना पड़ा है। 

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 9 Nov 2020 7:18 AM GMT

संकट तेजी से बढ़ा: डैम के टूट से बिजली उत्पादन ठप्प, फसल को भी नुकसान
X
संकट तेजी से बढ़ा: डैम के टूट से बिजली उत्पादन ठप्प, फसल को भी नुकसान
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भागलपुर: शनिवार को भागलपुर के कहलगांव में एनटीपीसी (NTPC) का थ्री डी ऐश डाइक तटबंध क्षतिग्रस्त हो गया। बता दें कि ये एक साल के अंदर तीसरी बार है जब ऐश डाइक के इस बांध को नुकसान पहुंचा हो। वहीं इस डैम के टूटने से NTPC प्रबंधन को सात में से चार यूनिट बिजली का उत्पादन बंद करना पड़ा है। यानी 2340 मेगावाट क्षमता वाली इस प्रोजेक्ट से 1420 मेगावाट बिजली का उत्पादन ठप्प पड़ा हुआ है।

चार यूनिट बिजली का उत्पादन हुआ बंद

इस परियोजना से केवल दो यूनिट से ही बिजली का उत्पादन किया जा रहा है। जबकि चार यूनिट बिजली का उत्पादन बंद करना पड़ा है। दरअसल, सभी सात यूनिट में से निकलने वाले राख मिश्रित पानी को इस डैम में स्टोर किया जा रहा था। लेकिन अचानक दबाव बनने की वजह से यह तटबंध क्षतिग्रस्त हो गया। अब इस घटना से बिजली संकट गहराने की संभावना बढ़ गई है।

यह भी पढ़ें: अक्षय की लक्ष्मी रिलीज: पहले भी ट्रांसजेंडर्स पर बनी हैं ये फिल्में, ऐसी है उनकी कहानी

फसल और गंगा नदी को हुआ काफी नुकसान

बता दें कि तटबंध क्षतिग्रस्त होने की जवह से प्लांट का राख मिश्रित पानी आसपास के गांव के खेत समेत गंगा में जाकर मिल रहा है। ऐसे में किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ा है। खेतों में फैले पानी से आक्रोशित ग्रामीणों ने महाप्रबंधक समेत कार्यकारी निदेशक से मिलकर फसल को हुए नुकसान को लेकर मुआवजे की मांग की है। इसके अलावा राख मिश्रित पानी मिलने से गंगा का पानी भी प्रदूषित हो रहा है। यही नहीं गंगा नदी में रहने वाले जलीय जीव-जंतु पर भी इसका प्रतिकूल असर हो रहा है।

यह भी पढ़ें: हार के बाद ट्रंप को तगड़ा झटका: पत्नी मेलानिया देंगी तलाक, लेंगी ये बड़ा बदला

सिपवे की संरचना में गड़बड़ी के चलते टूटा डैम

वहीं तटबंध के क्षतिग्रस्त होने पर परियोजना के निदेशक चंदन चक्रवर्ती ने कहा कि डाइक के सिपवे की संरचना में गड़बड़ी के चलते ये डैम टूट गया, जिसके बाद सुरक्षा को देखते हुए चार यूनिटों को बंद करना पड़ा है। वहीं इस मामले की जांच के लिए उच्चस्तरीय कमिटी गठित करने की भी बात कही जा रही है।

यह भी पढ़ें: शीतकालीन राजधानी जम्मू शिफ्ट, बढ़ेंगी सियासी सरगर्मियां, कड़ी हुई सुरक्षा

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Shreya

Shreya

Next Story