अभी अभी तगड़ा झटका! बना रहे प्लान, तो अभी न खरीदे सोना, चांदी

सोने की कीमतों में सोमवार को बड़ा उछाल दर्ज किया गया। खबर है कि दिल्ली सर्राफा बाजार में 10 सोने का दाम 50 रुपये बढ़ गया है। सोने के साथ साथ चांदी की कीमतों में भी तेजी देखी गई है।

Published by Harsh Pandey Published: December 16, 2019 | 6:37 pm
Modified: December 16, 2019 | 6:38 pm

नई दिल्ली: सोने की कीमतों में सोमवार को बड़ा उछाल दर्ज किया गया। खबर है कि दिल्ली सर्राफा बाजार में 10 सोने का दाम 50 रुपये बढ़ गया है। सोने के साथ साथ चांदी की कीमतों में भी तेजी देखी गई है। इंडस्ट्रियल डिमांड बढ़ने से एक किलोग्राम चांदी का भाव 234 रुपये चढ़ा।

यह भी पढ़ें. पाकिस्तान को आया चक्कर! सीमा पर तैनात हुए लाखों की संख्या में सैनिक

सोने का नया दाम…

सोमवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में 24 कैरेट सोने वाले सोने का दाम 38,648 रुपये बढ़कर 38,698 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। सोमवार को न्यूयॉर्क में सोना 1,475।7 डॉलर प्रति औंस पर और चांदी 17 डॉलर प्रति औंस रही।

यह भी पढ़ें-  कांपा पाकिस्तान! अभी-अभी भारत को मिली बड़ी कामयाबी, आतंकियों में हायतौबा

चांदी में दिखी चमक…

सोने की तरह चांदी के भाव में भी उछाल आया। दिल्ली सर्राफा बाजार में एक किलोग्राम चांदी की कीमत 234 रुपये बढ़कर 45,460 रुपये हो गई। पिछले कारोबारी सेशन में चांदी 45,226 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी।

यह भी पढ़ें. तो इमरान देंगे इस्तीफा! मौलाना का प्लान-B हुआ तैयार, पाक PM की टेंशन टाइट

इस वजह से आया उछाल…

HDFC सिक्योरिटीज के सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने बताया कि पॉजिटिव ग्लोबल ट्रेंड और रुपये में कमजोरी से सोने की कीमतों में तेजी आई है। उन्होंने कहा कि सोमवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 10 पैसा कमजोर हुआ है।

यह भी पढ़ें.  पाकिस्तान डरा! अब भारत करेगा बुरा हाल, वायुसेना का बहुत बड़ा है प्लान

नए साल में लागू होंगे सोने से जुड़े नए नियम…

इसके साथ ही आपको बताते चलें कि सोने के गहनों की हॉलमार्किंग 15 जनवरी 2021 से अनिवार्य हो जाएगी। लेकिन इसको लेकर सरकार नोटिफिकेशन 15 जनवरी 2020 को जारी करेगी।

इसका मतलब साफ है कि ज्वेलर्स को इन्हें लागू करने के लिए 1 साल का वक्त मिलेगा। बीआईएस कानून के मुताबिक हॉलमार्किंग के नियम तोड़ने वालों पर न्यूनतम 1 लाख रुपए से ज्वेलरी की वैल्यू के 5 गुना तक जुर्माने और एक साल की सजा का प्रावधान है।