Top

IRCTC में बिकेगी हिस्सेदारी: मोदी सरकार जल्द करेगी ऐलान, कल लगेंगी बोलियां

केंद्र की कैटरिंग एण्ड टूरिज्म कार्पोरेशन में बिक्री पेशकश के माध्यम से अपनी 15 से 20 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की योजना है। इस खबर के बीच IRCTC के शेयर चार प्रतिशत तक लुढ़क गए हैं। बु

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 9 Sep 2020 8:45 AM GMT

IRCTC में बिकेगी हिस्सेदारी: मोदी सरकार जल्द करेगी ऐलान, कल लगेंगी बोलियां
X
IRCTC में बिकेगी हिस्सेदारी: मोदी सरकार जल्द करेगी ऐलान, कल लगेंगी बोलियां
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: केंद्र की मोदी सरकार अब भारतीय रेलवे (Indian Railways) के आईआरसीटीसी का निजीकरण (IRCTC Disinvestment) करने की तैयारी में है। केंद्र की कैटरिंग एण्ड टूरिज्म कार्पोरेशन में बिक्री पेशकश के माध्यम से अपनी 15 से 20 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की योजना है। इस खबर के बीच IRCTC के शेयर चार प्रतिशत तक लुढ़क गए हैं। बुधवार को IRCTC के शेयर 1330 रुपये के स्तर पर कारोबार करते दिखे। वहीं मंगलवार को शेयर 2.57 फीसदी लुढ़क कर 1,378.05 रुपये पर बंद हुआ था।

यह भी पढ़ें: टूटा कंगना का ऑफिस: करोड़ों की लागत से बना ड्रीम ऑफिस, देखिए तस्वीर

दो दिन में सात फीसदी लुढ़का शेयर भाव

ऐसे में बीते दो दिनों में IRCTC के शेयर सात फीसदी तक लुढ़क चुके हैं। वहीं अगर मार्केट कैप की बात की जाए तो मार्केट कैप 21 हजार करोड़ रुपये के स्तर पर है। बता दें कि वित्त मंत्रालय के निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग ने आवेदन आमंत्रित करने का टेंडर जारी कर दिया है। इसके लिए कल यानी दस सितंबर से बोलियां मंगाई गई हैं। हालांकि अभी ये नहीं बताया गया है कि सरकार IRCTC में अपनी कितनी हिस्सेदारी बेचेगी। विभाग चार सितंबर को संभावित बोलीदाताओं के साथ एक बैठक भी कर चुका है।

यह भी पढ़ें: सेक्स रैकट का भंडाफोड़: मां-बेटे मिलकर चलाते थे धंधा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

15 से 20 फीसदी तक सरकार बेच सकती है हिस्सेदारी

वित्त मंत्रालय के निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) का आईआरसीटीसी में हिस्सेदारी बिक्री पर कहा कि सांकेतिक प्रतिशत 15 से 20 फीसदी तक है। विभाग का कहना है कि सही ब्योरा चुने गए मर्चेंट बैंक के साथ साझा किया जायेगा। गौरतलब है कि अक्टूबर 2019 में IRCTC ने अपना आईपीओ लॉन्च किया था। आईपीओ आने के बाद वैसे ही इसमें सरकार की हिस्सेदारी घटकर 87.40 फीसदी रह गई थी।

यह भी पढ़ें: करोड़ों का घोटाला: हिल उठी यूपी की सरकार, अब सीएम योगी कसेंगे शिकंजा

Indian Railways भारत सरकार IRCTC में बेचेगी हिस्सेदारी (फोटो- सोशल मीडिया)

भारतीय रेलवे की सहायक कंपनी है IRCTC

IRCTC भारतीय रेलवे (Indian Railways) की सहायक कंपनी है। IRCTC के द्वारा ट्रेनों से यात्रा करने वाले यात्रियों को ऑनलाइन टिकट बुकिंग करने और यात्रा के दौरान भोजन की व्यवस्था करने में मदद मिलती है। इसके अलावा आईआरसीटीसी द्वारा देश में प्राइवेट ट्रेनों का संचालन भी किया जाता है।

यह भी पढ़ें: हादसे से कांपा देश: वाहनों की टक्कर में कई लोगों की गई जान, CI की भी मौत

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story