सुपर मंडे: शेयर बाजार में जबरदस्त उछाल, सेंसेक्स में 1300 अंकों की बढ़त

आर्थिक सुस्‍ती को दूर करने के लिए बीते एक महीने में सरकार ने कई बड़े ऐलान किए हैं। सरकार ने 23 अगस्त को विदेशी पोर्टफोलियो और घरेलू निवेशकों पर लगाया गया सरचार्ज वापस लिया तो वहीं 30 अगस्त को 10 सरकारी बैंकों के विलय के बाद 4 बड़े सरकारी बैंक बनाने की घोषणा की गई।

Published by Manali Rastogi Published: September 23, 2019 | 10:00 am
Modified: September 23, 2019 | 10:47 am

मुंबई: शेयर बाजार में कॉरपोरेट टैक्स में हुई कटौती के बाद जबरदस्त उछाल देखने को मिला है। सोमवार को भी इसका असर दिखा। बता दें, सोमवार को 1300 अंकों की बढ़त के साथ सेंसेक्स 39,312.94 पर खुला। ऐसे में अब नेशनल स्टॉक एक्सचेंज निफ्टी 11550.80 तक पहुंच गया है। इसमें 276.60 अंकों की बढ़ोतरी हुई है।

Image result for sensex

यह भी पढ़ें: उपचुनाव Live : दंतेवाड़ा, हमीरपुर समेत चार विधानसभा सीटों पर वोटिंग जारी

दरअसल, विदेशी संस्थागत निवेशकों और घरेलू निवेशकों ने जमकर खरीदारी की है। शुक्रवार को वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कंपनी और कारोबारियों के लिए बड़ी राहत देते हुए कॉरपोरेट टैक्‍स घटाने का ऐलान किया था। वित्तमंत्री ने बताया था कि टैक्‍स घटाने का अध्‍यादेश पास हो गया। निर्मला सीतारमण के इस ऐलान के बाद शेयर बाजार में बड़ी तेजी देखी गई थी।

Image result for sensex

यह भी पढ़ें: तिहाड़ जेल पहुंचे मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी, अब करेंगे ये काम

वहीं, आज लगातार दूसरे दिन शेयर बाजार में जबरदस्त उछाल देखने को मिली है। शेयर मार्केट में अब तक की सबसे बड़ी एक दिनी तेजी देखी गई है। इसी क्रम में शुक्रवार को दिनभर के कारोबारी सत्र के दौरान घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) ने 3,000 करोड़ रुपये का निवेश किया था।

Image result for sensex

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी पहुंचे न्यूयॉर्क, संयुक्त राष्ट्र शिखर सम्मेलन में होंगे शामिल

सरकार के बूस्टर डोज की वजह से कारोबार के दौरान शेयर बाजार में इतिहास की सबसे बड़ी तेजी आई। कारोबार के दौरान एक वक्‍त सेंसेक्‍स में 2250 अंक से अधिक की बढ़त देखी गई। कारोबार के अंत में सेंसेक्‍स 1921 अंक उछलकर 38,014 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं, निफ्टी भी 569 अंक की तेजी के साथ 11,274 पर रहा।

Image result for sensex

अब तक इतिहास की सबसे बड़ी है बढ़त

शेयर बाजार ने शुक्रवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के बाद जो रफ्तार पकड़ी, उसने एक नया रिकॉर्ड बना दिया। कारोबार के दौरान एक वक्‍त सेंसेक्‍स 2250 अंक से ज्यादा बढ़त के साथ कारोबार करता दिखा तो वहीं निफ्टी ने भी 650 अंकों से अधिक की बढ़त दर्ज कर ली। इससे पहले 18 मई 2009 को सेंसेक्‍स में 2,110 अंक की तेजी आई थी। तब तत्कालीन यूपीए सरकार के एक बार फिर से सत्ता में वापस लौटने का जश्न मार्केट ने मनाया था।

कोई और टैक्स नहीं देंगी कंपनियां

मालूम हो, वित्तमंत्री की नई घोषणा के मुताबिक कंपनियों के लिए नया कॉरपोरेट टैक्स दर 25.17 प्रतिशत तय हुआ है। इसके अलावा कंपनियों को कोई और टैक्स नहीं देना होगा। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक अध्यादेश लाकर घरेलू कंपनियों, नयी स्थानीय विनिर्माण कंपनियों के लिये कॉरपोरेट कर कम करने का प्रस्ताव दिया है।

Image result for nirmala sitharaman

यह भी पढ़ें: ट्रंप के सामने मोदी ने पाक पर बोला करारा हमला, पढ़ें आतंकवाद पर पीएम के कड़े बयान

बता दें कि आर्थिक सुस्‍ती को दूर करने के लिए बीते एक महीने में सरकार ने कई बड़े ऐलान किए हैं। सरकार ने 23 अगस्त को विदेशी पोर्टफोलियो और घरेलू निवेशकों पर लगाया गया सरचार्ज वापस लिया तो वहीं 30 अगस्त को 10 सरकारी बैंकों के विलय के बाद 4 बड़े सरकारी बैंक बनाने की घोषणा की गई। इसी तरह बीते 14 सितंबर को एक्सपोर्ट और रियल एस्टेट सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए पैकेज और रियायत देने की बात कही गई।