Top

लखनऊ में पेट्रोल पम्प के कर्मचारी को बदमाशों ने मारी गोली 

लखनऊ में अपराध का ग्राफ कंट्रोल करने के दावे को बदमाशों की चुनौती मिल रही है। मंगलवार को त्रिकुटा पेट्रोल पम्प पर कार्य करने वाले सुधीर कुमार और आलोक को रुपये लेकर जाते हुए मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने गोली मारकर निशाना बनाया।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 28 May 2019 2:05 PM GMT

लखनऊ में पेट्रोल पम्प के कर्मचारी को बदमाशों ने मारी गोली 
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: लखनऊ में अपराध का ग्राफ कंट्रोल करने के दावे को बदमाशों की चुनौती मिल रही है। मंगलवार को त्रिकुटा पेट्रोल पम्प पर कार्य करने वाले सुधीर कुमार और आलोक को रुपये लेकर जाते हुए मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने गोली मारकर निशाना बनाया। गोली लगने से घायल सुधीर को पुलिस ने ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

यह भी पढ़ें,,, पुलिस की कार्यशैली से आहत पत्रकार ने डीएम को प्रार्थना पत्र लिखकर मांगी इच्छा मृत्यु

ठाकुरगंज थाना क्षेत्र के भुवर चौकी क्षेत्र में रिंग रोड पर पेट्रोल पम्प कर्मचारी सुधीर और आलोक पेट्रोल पम्प का रुपया लेकर मोटरसाइकिल से जा रहे थे। जब पीछे से आये बदमाशों ने रुपये का थैला छीनने की कोशिश की और गोली चला दी। गोली सुधीर के कमर में लगी और वह गिर पड़ा। उसके गिरने के साथ आलोक भी गिरा और उससे पैर पर चोट आ गई।

यह भी पढ़ें,,, सिपाही की दबंगई, बीजेपी नेता को पीटने के बाद जान से मारने की धमकी

घायलावास्था में सुधीर को ट्रामा सेंटर भर्ती कराया गया। सुधीर के भर्ती होने के कारण पुलिस उससे बयान नहीं ले सकी है। वहीं आलोक ने पूरी घटना पुलिस को बताई है। घटनास्थल पर पुलिस अधीक्षक पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी, क्षेत्राधिकारी दुर्गा प्रसाद तिवारी समेत थाने की पुलिस फोर्स पहुंच गई है। ठाकुरगंज के थानाध्यक्ष डीएन मिश्रा सीसीटीवी फुटेज से बदमाशों की फोटो निकलवाने और आसपास के लोगों से पूछताछ करने में जुटे हुए हैं।

यह भी पढ़ें,,, नोएडा: एक किलो सोने की लूट का खुलासा, 4 आरोपी गिरफ्तार

थानाध्यक्ष का कहना है कि सुबह 10 बजे बैंक खुलने के बाद पेट्रोल पम्प का रुपया लेकर सुधीर बैंक के लिए निकला था। बदमाशों की नजर उस पर पहले से रही होगी। रुपया लूटने की नियत से फायर हुआ होगा लेकिन लूटने में बदमाश कामयाब नहीं हो सके। सुधीर के बयान और सीसीटीवी फुटेज में बदमाशों का चेहरा सामने आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story