ICSE-ISC Result 2019 के नतीजे: इन दो छात्रों ने 100% अंक लाकर बनाया रिकॉर्ड

बता दें कि इस बार आईसीएसई कक्षा 10वीं परीक्षा 2019 22 फरवरी से शुरू हुई थी और आईएससी 12वीं परीक्षा 2019 4 फरवरी से शुरू हुई थी। पिछले वर्ष आईसीएसई रिजल्ट 98.51 प्रतिशत रहा था जबकि आईएससी रिजल्ट 96.21 प्रतिशत रहा था।

नई दिल्ली: काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (आईसीएसई) बोर्ड ने ICSE (10वीं) और ISC (12वीं) का रिजल्ट जारी कर दिया है। छात्र अपना रिजल्ट www.cisce.org या www.results.cisce.org पर जाकर चेक कर सकते हैं।

बता दें कि इस बार आईसीएसई कक्षा 10वीं परीक्षा 2019 22 फरवरी से शुरू हुई थी और आईएससी 12वीं परीक्षा 2019 4 फरवरी से शुरू हुई थी। पिछले वर्ष आईसीएसई रिजल्ट 98.51 प्रतिशत रहा था जबकि आईएससी रिजल्ट 96.21 प्रतिशत रहा था।

ऐसे चेक करें रिजल्ट

सबसे पहले www.cisce.org या www.results.cisce.org जाएं। यहां 12वीं वाले ISC Result के ऑप्शन पर क्लिक करें और 10वीं वाले ISCE Result के ऑप्शन पर क्लिक करें। रिजल्ट पेज खुलने पर अपना यूनिक आईडी, इन्डेक्स नंबर और स्क्रीन पर दिख रहा कैप्चर कोड डालें। सब्मिट करने पर आपका रिजल्ट आपकी स्क्रीन पर आ जाएगा।

ये हैं टॉपर

इस साल 10वीं में 98.54 और 12वीं में 96.52 स्टूडेंट्स पास हुए है। 10वीं में मुबंई की जूही रूपेश कजारिया और मुक्तसर मनहर बंसल ने 99.60 फीसदी अंकों के साथ टॉप किया है। वहीं, 12वीं में कोलकाता के देवांग कुमार अग्रवाल और बेंगलुरु की विभा स्वामीनाथन ने 100 फीसदी अंकों के साथ टॉप किया है।

ये भी देखें :खुश खबर! अक्षय तृतीया ने समाप्त किया तीन साल से जारी सुस्ती का दौर

13 मई तक पुर्नमूल्यांकन के लिये करें आवेदन

काउंसिल के मुख्य कार्यकारी और सचिव गैरी अराथून ने बताया कि परीक्षा परिणाम जारी होने के 48 घंटे बाद छात्र इसे डिजी लॉकर से भी प्राप्त कर सकते हैं। काउंसिल का कहना है कि परीक्षा परिणाम जारी होने के सात दिन के अंदर ही छात्र काउंसिल के पोर्टल से पुर्नमूल्यांकन के लिये ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। छात्र इसे स्कूल के माध्यम से भी आवेदन कर सकता है। काउंसिल ने स्पष्ट किया है कि इसे 13 मई के बाद आवेदन स्वीकार नहीं किये जाएंगे।

अगर परीक्षार्थी अपने पेपर को दोबारा चेक करवाना चाहता है तो वह आफिशल वेबसाइट पर आवेदन कर सकते है। रीचेकिंग की सुविधा रिजल्ट घोषित होने के अगले 7 दिनों तक उपलब्ध रहेगी।

13 मई के बाद आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे। इस बार 10वीं में कुल 1 लाख 96 हजार 271 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए। जिसमे 1 लाख 6 हजार 974 बॉयज में 1 लाख 4 हजार 966 बॉयज (98.12 प्रतिशत) व 89 हजार 297 गर्ल्स में 88 हजार 447 गर्ल्स (99.05 प्रतिशत) विद्यार्थी पास हुए। इसी तरह 12वीं में 86 हजार 713 विद्यर्थियों में 46 हजार 749 बॉयज में 44 हजार 597 (95.40 प्रतिशत) व 39 हजार 964 गर्ल्स में 39 हजार 100 (97.84 प्रतिशत) विद्यार्थी सफल रहे। इसी तरह 10वीं में डेसलिक्सिया से पीड़ित कुल 1021 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए। इनमें से 123 विद्यार्थियों ने 90 प्रतिशत से ज्यादा अंक हासिल किए।

वहीं, दृश्यता  रोग से पीड़ित 36 विद्यार्थी शामिल हुए इसमे से 11 विद्यार्थियों ने 90 प्रतिशत से अधिक अंक अर्जित किए। वहीं, 12वीं में 196 डेसलिक्सिया से पीड़ित विद्यार्थियों में 25 ने 90 प्रतिशत से ज्यादा अंक हासिल किए। वहीं,  दृश्यता रोग से पीड़ित 18 में से 4 विद्यार्थियों ने 90 प्रतिशत अंक हासिल किए।

वहीं, 12वीं में दो छात्रों ने 100 प्रतिशत अंक हासिल कर देश में पहले स्थान पर रहे। दूसरे स्थान पर 99.75 प्रतिशत अंक के साथ 16 विद्यार्थी और तीसरे स्थान पर 99.50 प्रतिशत के साथ 36 विद्यार्थी रहे। 10वीं में 99.60 प्रतिशत के साथ दो विद्यार्थियों ने पहला स्थान , 99.40 प्रतिशत के साथ 10 विद्यार्थी दूसरे और 99.20 प्रतिशत के साथ 24 विद्यार्थी तीसरे स्थान पर रहे।

10वीं के रीजन वाइस परीक्षा परिणाम

रीजन प्रतिशत
पश्चिमी रीजन 99.76
दक्षिणी रीजन 99.73
पूर्वी रीजन 98.06
उत्तरी रीजन 97.87
विदेश रीजन 100

12वीं के रीजन वाइज परीक्षा परिणाम

दक्षिणी रीजन 98.91
पश्चिमी रीजन 98.13
पूर्वी रीजन 96.66
उत्तरी रीजन 95.76
विदेश रीजन 99.69

दिल्ली एनसीआर में 10वीं का 99.23 और 12वीं का 98.35 प्रतिशत रहा परिणाम
दिल्ली एनसीआर में 10वीं में 2 हजार 597 (98.93 प्रतिशत) बॉयज परीक्षा में पास हुए। वहीं, 2 हजार 327 गर्ल्स पास हुई। इसी तरह 12वीं में 97.66 प्रतिशत बॉयज व 99.13 प्रतिशत गर्ल्स पास हुई। 10वीं में वैदिक अग्रवाल सेंट मैरी एकडमी मेरठ कैंट ने 98.8 प्रतिशत अंक पाकर टाप किया।

दूसरी स्थान पर अग्रिम जैन 98.6 प्रतिशत सेंट फ्रांसिक स्कूल शामली और तीसरे स्थान पर चार विद्यार्थियों ने 98.4 प्रतिशत अंक हासिल किए। 12वीं में श्रीनवंती द श्री राम स्कूल गुरुग्राम ने 99.75 प्रतिशत अंक प्राप्त कर टॉप किया। वहीं, इसी स्कूल की श्रुती •ाी पहले पायदान पर रही। इइसके अलावा दूसरे स्थान पर 99.00 प्रतिशत के साथ तीन विद्यार्थी तीसरे स्थान पर रहे। तीसरे स्थान पर चार विद्यार्थियों ने 98.75 प्रतिशत अंक अर्चित किए।

ये भी देखें : कार्ति चिदंबरम को दस करोड़ रूपए जमा कराने पर विदेश यात्रा की अनुमति दी

उत्तरप्रदेश में 10वीं का 97.14 और 12वीं का परीक्षा परिणाम रहा 95.33 प्रतिशत

उत्तर प्रदेश में 10वीं में कुल 23 हजार 603 बॉयज और 17 हजार 635 गर्ल्स पास हुई। 12वीं में 16 हजार 116 बॉयज और 12 हजार 712 गर्ल्स पास हुई। 10वीं में लॉ मारटिनियर गर्ल्स कॉलेज लखनऊ की अन्नया अग्रवाल ने 99.40 और सिटी मांटेसरी स्कूल लखनऊ की राधिका गुप्ता ने 99.40 प्रतिशत अंक प्राप्त कर उत्तर प्रदेश में पहले पायदान कब्जा किया। वहीं, तीन विद्यार्थियों ने 99.20 प्रतिशत अंक हासिल कर दूसरे व छह विद्यार्थियों ने 99 प्रतिशत अंक प्राप्त कर तीसरे स्थान पर रहे।

12वीं में नंदिता प्रकाश, नेहल शर्मा, अशिता, कशिश ने 99.75 प्रतिशत अंक हासिल कर प्रदेश में टॉप किया। वहीं, नौ विद्यार्थियों ने 99.50 प्रतिशत अंक हासिल कर दूसरा स्थान और 99.25 प्रतिशत अंक लेकर 16 विद्यार्थी तीसरे स्थान पर रहे।
2018 का ऐसा था रिजल्ट

साल 2018 में 10वीं और 12वीं का रिजल्ट 14 मई को घोषित किया था। पिछले साल 10वीं में 98.51 प्रतिशत, जबकि 12वीं में 96.21 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए थे। 10वीं में नवी मुंबई के सेंट मैरी के स्वयं दास ने 99.40 प्रतिशत अंकों के साथ टॉप किया था, जबकि 12वीं में सात परीक्षार्थियों ने टॉप किया था।

 

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App