UP Board Exam 2020: शुरू हुई स्टूडेंट्स की अग्निपरीक्षा, CM ने दिया आशीर्वाद

त्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड (UP Board) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की शुरुआत मंगलवार से हो गयी है।

Published by Shivani Awasthi Published: February 18, 2020 | 10:58 am
Modified: February 18, 2020 | 11:06 am

UP Board Exam 2020 begins Cm yogi blessed Students

लखनऊ: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड (UP Board) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की शुरुआत मंगलवार से हो गयी है। दो पाली में आयोजित हुई इस परीक्षा में प्रदेशभर में 7784 केंद्र बनाये गये हैं। जहां 56,07,118 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हो रहे हैं।  खुद डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा आज सुबह परीक्षा केन्द्रों पर पहुंचे और जायजा लिया।

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने किया परीक्षा केंद्र का निरीक्षण:

यूपी बोर्ड परीक्षा का आज से आगाज हो गया है। परीक्षा के पहले दिन हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की हिंदी और प्रारम्भिक हिंदी की परीक्षा हो रही है। इसके तहत 56 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी एग्जाम दे रहे हैं। हाईस्कूल की परीक्षायें 12 दिन और इंटर की परीक्षायें 15 दिन तक चलेंगी। प्रशासन और विभाग ने इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली है।

ये भी पढ़ें: नहीं बन सकता राम मंदिर! अब आई ये नई मुसीबत, कैसे होगा भव्य मंदिर निर्माण

बोर्ड परीक्षा शुरु होने को लेकर यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव और दूसरे अधिकारी सुबह सात बजे से पहले ही यूपी बोर्ड के दफ्तर पहुंच गए। यूपी बोर्ड की सचिव ने बोर्ड परीक्षा में शामिल हो रहे सभी छात्र-छात्राओं को परीक्षा में सफलता के लिए उन्हें शुभकामनायें दी हैं। वहीं उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा भी परीक्षा केंद्र पर पहुंचे, जहां उन्होंने स्कूल का जायजा लिया।

ये भी पढ़ें: कांग्रेस नेता की गोली मारकर हत्या: पार्टी में मचा हड़कंप, जांच शुरू

सीएम योगी ने ट्वीट कर दी शुभकामनाएं:

इस मौके पर सीएम योगी ने ट्वीट पर लिखा, ‘प्यारे युवा मित्रों, आज से UP Board की परीक्षाएं शुरू हो रही हैं। आप सबने वर्ष भर मेहनत और लगन से पढ़ाई की है।आत्मविश्वास के साथ प्रसन्न चित्त से प्रश्नों के उत्तर बिना तनाव के दीजियेगा। मुझे विश्वास है मेहनत रंग लाएगी और सफलता आपके कदम चूमेगी।’

नकलविहीन परीक्षा के लिए विभाग की तैयारी पक्की:

यूपी बोर्ड ने नकलविहीन परीक्षा कराने का दावा किया है। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था और नजरबंदी में एग्जाम हो रहे हैं। सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की जा रही है।

ये भी पढ़ें: शादी ना होने की खुशी थी या गम, नेहा कक्कड़ ने बच्चों के साथ की ये हरकत, VIDEO

एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा

बता दें कि यह एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा है। जिसमें लाखों छात्र एक साथ एग्जाम देते हैं। बता दें कि योगी सरकार में तीसरी बोर्ड परीक्षा आयोजित हुई है। जिसमें इस बार कुल 56 लाख 7 हजार 118 परीक्षार्थी एग्जाम दे रहे हैं। जिसमें हाईस्कूल में 30 लाख 22 हजार 607 परिक्षार्थी,तो वही इंटर में 25 लाख 84 हजार 511 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए हैं। पिछली बार की तुलना में इस साल एक लाख  88 हजार 638 परीक्षार्थी कम सम्मिलित हुए हैं।

ये भी पढ़ें: नहीं मिल रही नौकरी, न हो रही शादी तो शिवरात्रि पर करें ये सरल उपाय