Top

युवाओं के लिए अच्छी खबर, UP में 50 हजार पदों पर होगी भर्तियां, CM योगी का आदेश

आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, यह परीक्षा दो चरणों में कराई जाएगी। सबसे पहले प्रिलिमनरी क्वालिफिकेशन टेस्ट (PET) होगा। इस परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थियों को शार्ट लिस्ट करके मुख्य परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाएगा।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 20 Feb 2021 2:21 AM GMT

युवाओं के लिए अच्छी खबर, UP में 50 हजार पदों पर होगी भर्तियां, CM योगी का आदेश
X
सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी इसकी सहमति दी है और जल्द द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली के तहत यूपीएसएसएससी की भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के आदेश दिए हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सरकारी नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जल्द ही अलग-अलग विभागों के 50 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू करने जा रही है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी इसकी सहमति दी है और जल्द द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली के तहत यूपीएसएसएससी की भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही चयन आयोग वर्ष 2020 के पूर्व से लंबित उन 13 परीक्षाओं के अंतिम परिणाम भी अगले दो महीने में जारी करेगा।

इसके आधार पर 5000 से ज्यादा लोगों को सरकारी नौकरी मिल पाएगी। इसके बाद ही 50000 रिक्त स्थानों पर भर्ती प्रक्रिया को शुरू की जाएगी। यह भर्ती प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी और निष्पक्ष रहेगी। इसके लिए प्लान तैयार हो चुका है जिसके लिए सीएम योगी ने इजाजत दे दी है।

ऐसे होगी परीक्षा

आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, यह परीक्षा दो चरणों में कराई जाएगी। सबसे पहले प्रिलिमनरी क्वालिफिकेशन टेस्ट (PET) होगा। इस परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थियों को शार्ट लिस्ट करके मुख्य परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाएगा। इसमें सफल होने वाले अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया जाएगा।

Yogi Adityanath

ये भी पढ़ें...गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे: अवनीश कुमार अवस्थी ने की निर्माण कार्य की समीक्षा बैठक

इन विभागों में भर्ती

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) से मिली जानकारी के मुताबिक, परिवार कल्याण विभाग में महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता के 9212 पदों, कृषि निदेशालय में टेक्निकल असिस्टेंट-ग्रुप-C के 1817 पदों, राजस्व परिषद में राजस्व लेखपाल के 7882 पदों, आंतरिक लेखा एवं लेखा परीक्षक विभाग में असिस्टेंट राइटर के 1068 पदों, राजस्व परिषद में जूनियर असिस्टेंट के 1137 पदों, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा विभाग में लेबोरेटरी तकनीशियन के 700 पदों, गन्ना एवं चीनी विभाग में गन्ना सुपरवाइजर के 874 पदों, वन विभाग में वन रक्षक के 694 पदों, प्रशिक्षण एवं सेवायोजना विभाग में इंस्ट्रक्टर के 622 पदों और चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में एक्स-रे तकनीशियन के 456 पदों पर भर्ती का टारगेट रखा गया है। इनके साथ ही कई अन्य विभागों के रिक्त पदों को भरने की भी कार्यवाही आयोग कर रहा है।

ये भी पढ़ें...योगी सरकार का बड़ा कदम, यूपी में महिलाओं को मिलेगा रोजगार

भर्तियों का जल्द होगा ऐलान

चयन आयोग के मुताबिक, अभ्यर्थियों की नियुक्तियां द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली के आधार पर होंगी। अभ्यर्थियों के चयन के लिए सबसे पहले पीईटी आयोजित कराया जाएगा। इस परीक्षा की अवधि दो घंटे की होगी। इस परीक्षा में कुल 100 प्रश्न पूछे जाएंगे। प्रश्न का गलत जवाब देने पर निगेटिव मार्किंग भी होगी। एक प्रश्न गलत होने पर 1/4 अंक काटा जाएगा। पीईटी का रिजल्ट परसेंटाइल के आधार पर जारी होगा। इसमें सफल होने वाले अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story