Whatsapp: हो जायेंगे कंगाल, फौरन बंद कर दें, अगर करते हैं ऐसा काम

अगर आपके पास भी पैसे की मांग वाले व्हाट्सएप मैसेज आए, तो भूलकर भी उनपर भरोसा ना करें। इसके साथ ही आप अपने किसी दोस्त और रिश्तेदार को एक मैसेज के आधार पर भूलकर भी पैसे नहीं भेजें।

नई दिल्ली: आज के दौर में सभी लोग इंस्टेंट मैसेजिंग एप व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हैं। साथ ही व्हाट्सएप भी अपने यूजर्स को फोटो, वीडियो और मैसेज शेयर करने की सुविधा देता है।

हालांकि, कई महीनों से इस प्लेटफॉर्म पर फेक मैसेजेज की संख्या बढ़ गई है, जिससे लोगों को लाखों रुपये का चूना लग रहा है। इस कड़ी में महाराष्ट्र के ठाणे शहर से एक मामला सामने आया है, जिसमें 53 वर्षीय सैन्य अधिकारी के साथ पैसों की धोखाधड़ी हुई है। तो चलिए जानते हैं पूरा मामला…

 व्हाट्सएप पर आई मिस्ड कॉल

दरअसल, छह दिसंबर को सैन्य अधिकारी के व्हाट्सएप पर एक मिस्ड कॉल आई थी। जब उन्होंने उस नंबर पर दोबारा कॉल किया, तो उस पर कॉल नहीं जा रही थी। कुछ समय बाद उनके पास उस ही नंबर से एक मैसेज आया, जिसमें उस यूजर ने अपने आपको उनका दोस्त कर्नल हरपाल सिंह बताया था।

सैन्य अधिकारी ने उस नंबर पर रिप्लाई किया, तो उस जालसाज ने कहा कि वह और उसकी पत्नी अमेरिका में है और उसे अपनी बहन का इलाज कराना है।

साथ ही, उसने अधिकारी मित्र से इलाज के लिए पैसों की मांग की। इसके बाद जालसाज ने कहा कि वह अमेरिका में है, जिसकी वजह से वह पैसे ट्रांसफर नहीं पा रहा है। इसके आगे उसने अधिकारी मित्र के व्हाट्एप पर अकाउंट नंबर भेज दिया।

ये भी पढ़ें…Alert: 31 दिसंबर से बंद हो जाएगा WhatsApp, यहां जानें क्यों?

फर्जी मैसेज पर किया यकीन

सैन्य अधिकारी ने जालसाज के मैसेज को सही मानकर 40,000 रुपये उस अकाउंट नंबर पर ट्रांसफर कर दिए। उन्हें तब शक हुआ, जब 20 हजार रुपये और मांगे गए।

अधिकारी ने तुरंत अपने दोस्त हरपाल सिंह को कॉल किया, तो पता चला कि वह अमेरिका में नहीं बल्कि पंजाब में है। साथ ही हरपाल सिंह ने कभी पैसों की मांग नहीं की थी।

इसके बाद सैन्य अधिकारी ने इस घटना की शिकायत पुलिस में दर्ज कर दी थी। वहीं, दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि वे इस मामले की जांच कर रहे है।

ये भी पढ़ें…Whatsapp: ऐसे जानें, ब्लॉक हैं या नहीं? कभी भी कर सकेंगे मैसेज

 फेक मैसेज से रहे सावधान

अगर आपके पास भी पैसे की मांग वाले व्हाट्सएप मैसेज आए, तो भूलकर भी उनपर भरोसा ना करें। इसके साथ ही आप अपने किसी दोस्त और रिश्तेदार को एक मैसेज के आधार पर भूलकर भी पैसे नहीं भेजें।

हालांकि, ज्यादातर हैकर्स यूजर्स को ठगने के लिए पैसों का लालच देते हैं, जिसके चलते वह हैकर्स का शिकार हो जाते हैं। तो ऐसे में भूलकर भी अपना अकाउंट नंबर किसी के साथ शेयर नहीं करें, नहीं तो आपको लाखों रुपये का चूना लग सकता है।

ये भी पढ़ें…WHATSAPP ने कहा- इस वजह से हुईं यूजर्स की जासूसी, अब नहीं सुरक्षा से समझौता

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App