इस जड़ी-बूटी से पुरुषों की अंदरूनी कमजोरी होती है दूर, करें इसके नियमित सेवन से इलाज

दैनिक जीवन में खानपान, ब्रेकफास्ट न करने की आदत, पौष्टिक तत्वों की कमी और कुछ गलत आदतों के कारण लोगो में खासकर पुरुषों में शारीरिक कमजोरी होने लगती है। इस शारीरिक कमजोरी दूर करने के लिए लोग पहले अश्वगंधा का सेवन करते हैं। लेकिन इसके अलावा भी एक जड़ी- बूटी है,

Published by suman Published: August 4, 2019 | 10:23 am

जयपुर:  दैनिक जीवन में खानपान, ब्रेकफास्ट न करने की आदत, पौष्टिक तत्वों की कमी और कुछ गलत आदतों के कारण लोगो में खासकर पुरुषों में शारीरिक कमजोरी होने लगती है। इस शारीरिक कमजोरी दूर करने के लिए लोग पहले अश्वगंधा का सेवन करते हैं। लेकिन इसके अलावा भी एक जड़ी- बूटी है, जो अश्वगंधा से भी ज्यादा फायदेमंद है। उसका नाम है कौंच बीज। कौंच बीज का इस्तेमाल शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए आयुर्वेद में बहुत पहले से किया जाता रहा है। यह पूरी तरह से आयुर्वेदिक है इसका किसी तरह का साइड- इफेक्ट नहीं है।

शारीरिक कमजोरी दूर करने के लिए कौंच का बीज लाभदायक है क्योंकि इसमें प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम एंटीऑक्सीडेंट, फास्फोरस, जिंक और कॉपर जैसे तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर की  कमजोरी को दूर करता है। शरीर की इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाने के बाद शरीर पर कई तरह की बीमारियां होती है।

डूब गया पूरा शहर, अभी-अभी भारी बारिश की मिली चेतावनी

कौंच के बीज में मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी व एंटीऑक्सीडेंट जैसे गुण है जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है। कौंच के बीज का सेवन करने से व्यक्ति के शरीर में बीमारियों से लड़ने की क्षमता अधिक होती है।

इस बीज में कोलेस्ट्रोल को कम करने की ताकत होती है। इससे शरीर में विषैले पदार्थ को बाहर निकालते है और रक्त को शुद्ध करता है।

अनिद्रा की समस्या को दूर करने के लिए कौंच का बीज मददगार है। कौंच के बीज के अंदर कुछ ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो दिमाग को आराम करने में बहुत मददगार होते हैं। इसका सेवन करने से मन एकदम शांत हो जाता है और अनिद्रा की समस्या से छुटकारा मिलता है।

जम्मू-कश्मीर: ‘टेंशन’ के बीच बाहरी स्टूडेंट्स को मिले घाटी छोड़ने के निर्देश