×

सावधान: अखबार में रखें खाने से कैंसर, FSSAI ने जारी की गाइडलाइन

अखबार की स्याही में डाई आइसोब्यूटाइल फटालेट, डाइएन आईसोब्यूटाइलेट जैसे बायोएक्टिव केमिकल होते हैं। ये केमिकल खाने के साथ मिलकर जहर का काम कर सकते हैं। अगर यही केमिकल ज्यादा मात्रा में शरीर में पहुंच जाता है, तो यह कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों का रूप ले लेता है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 26 Dec 2020 12:28 PM GMT

सावधान: अखबार में रखें खाने से कैंसर, FSSAI ने जारी की गाइडलाइन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: क्या आप भी कहीं जाते हैं तो खाने वाली चीजों को अखबार में लपेट कर लेकर जाते हैं? अगर हां, तो आप भी सावधान हो जाइए, क्योंकि अखबार में खाना पैक करने से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है। खाने की पैकिंग से ही नहीं बल्कि अखबार पर स्ट्रीट फूड जैसी अन्य खाने की चीजों को रखकर खाना भी सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। यह बात हम नहीं बल्कि कई रिसर्च की शोध कहती है। जानकारों के मुताबिक ऐसा करना स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदायक होता है।

अखबार में होते हैं कई हानिकारक केमिकल

वैसे तो यूं अखबार पढ़ने के लिए होता है, लेकिन लोग इसका इस्तेमाल खाना को पैक करने के लिए भी कर ही लिया करते है। आपको बता दें कि जिस अखबार पर आप स्ट्रीट फूड बड़े चाव से खाते हैं, उस अखबार को छापने के लिए कई तरह की स्याहियों का उपयोग किया जाता है, जिसमें कई तरह के केमिकल मिले होते हैं। अगर ये कैमिकल शरीर में पहुंच जाएं, तो यह आपके शरीर को काफी नुकसानदायक पहुंचा सकता हैं।

यह भी पढ़ें... नींद में ऐसी आदत: ना करें नजरअंदाज, हो रहे इसका शिकार, इन टिप्स से करें दूर

अखबार के इस्तेमाल से हो सकता है कैंसर

जानकारी के मुताबिक, अखबार की स्याही में डाई आइसोब्यूटाइल फटालेट, डाइएन आईसोब्यूटाइलेट जैसे बायोएक्टिव केमिकल होते हैं। ये केमिकल खाने के साथ मिलकर जहर का काम कर सकते हैं। अगर यही केमिकल ज्यादा मात्रा में शरीर में पहुंच जाता है, तो यह कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों का रूप ले लेता है।

health tips

FSSAI अखबार को लेकर जारी कर चुकी है गाइडलाइंड

आपको बता दें कि अखबार में लपेटे हुए खाने के सेवन से आपकी पाचन क्रिया खराब हो सकती है। इसका सबसे ज्यादा असर महिलाओं पर होता है। यह महिलाओं के रिप्रोडक्टिव साइकल को खराब कर देता है। अखबार की स्याही जब खाने में मिल जाता है, तो खाने का स्वाद भी बिगाड़ जाता है। भारत सरकार की संस्था FSSAI भी खाना पैक करने में अखबार के इस्तेमाल को लेकर गाइडलाइंड जारी कर चुकी है।

यह भी पढ़ें... कोरोना के 7 सवाल: इंटरनेट पर तेजी से हो रहा ट्रेंड, जाने इसके बारे में पूरी डीटेल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story