Health : ज्यादातर टूथपेस्ट दांतों को नुकसान पहुंचाते हैं

Health : ज्यादातर टूथपेस्ट दांतों को नुकसान पहुंचाते हैं

नई दिल्ली: ज्यादातर टूथपेस्ट दांत चमकाने का दावा करते हैं. लेकिन यह दावा पूरी तरह सच नहीं है, ऐसे टूथपेस्ट खासतौर पर दांतों को नुकसान पहुंचाते हैं।
चार अलग अलग ऊतकों से बनने वाले दांत इंसान के शरीर में सबसे मजबूत संरचना हैं। इन ऊतकों को पल्प, डेन्टिन, इनैमल और सीमेंटम कहा जाता है।
पल्प दांत का सबसे भीतरी हिस्सा होता है। पल्प के साथ तंत्रिका कोशिकाएं और रक्त वाहिकाएं जुड़ी होती हैं। खून का बहाव मसूढ़ों व दांतों को स्वस्थ रखता है। तंत्रिका कोशिकाएं चबाने के लिए जरूरी दबाव पैदा करने में मदद करती हैं।

यह भी पढ़ें : बालों में छुपे राज! बस इस तरह आप जान सकते हैं दिल की बात

दांत सफेद करने वाले टूथपेस्ट टूथ इनैमल पर हमला करते हैं। कई टूथपेस्टों में ऐसे केमिकल होते हैं जो इनैमल को क्षतिग्रस्त करते हैं। बाहरी कवच के घिसने से दांत बेहद खुरदरा हो जाता है। बाहरी परत के घिसने के बाद दांतों चाय, कॉफी या वाइन आदि के धब्बे जल्दी लगने लगते हैं। दांत ज्यादा फीके दिखने लगते है।

यह भी पढ़ें :  नहीं बोलेगा कोई मोटा! सिर्फ 10 दिनों में मिलेगा इससे छुटकारा

डॉक्टर चेतावनी देते हैं कि दांत सफेद करने वाले टूथपेस्ट का बहुत ज्यादा इस्तेमाल करने से दांतों को फायदे कम और नुकसान ज्यादा पहुंच सकता है। दांत चमकाने के लिए घर की जाने वाली ब्लीचिंग भी बहुत फायदेमंद नहीं है। ब्लीचिंग जेल में दांत साफ करने के लिए जरूरी तत्व बहुत कम मात्रा में होते हैं।
दांतों को चमकाने के बजाए स्वथ्य रखना ज्यादा अहम है। लिहाजा समय समय पर मसूढ़ों की मालिश, हर बार खाना खाने के बाद अच्छे से मसूढ़ों को रगड़ते हुए कुल्ला करना आसान और कारगर उपाय हैं।