आनंद विहार टर्मिनल से चलने वाली ये 10 ट्रेनें चलेंगी पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन से

दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और अस्पतालों में बेड नहीं होने के कारण रेलवे ने यह फैसला लिया है। इस फैसले के मुताबिक अब आनंद विहार रेलवे स्टेशन को एक अस्पताल के रूप में स्थापित किया जाएगा और इसके सभी प्लेटफॉर्म पर रेलवे के आइसोलेशन कोच खड़े किए जाएंगे, ताकि कोरोना वायरस के मरीजों को यहां रखा जा सके।

Published by SK Gautam Published: June 15, 2020 | 11:27 am
Modified: June 15, 2020 | 11:36 am

नई दिल्ली: कोरना का संकट दिल्ली में दिन-प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा हैं। हालात ये हैं कि अब अस्पतालों में बेड की कमी और लगातार बढ़ रही है। कोरोना के मामलों को देखते हुए इंडियन रेलवे ने एक बड़ा फैसला लिया है। और इस फैसले भारतीय रेल ने आनंद विहार से चल रही ट्रेनों के परिचालन को बंद कर दिया है और आनंद विहार टर्मिनल के सभी प्लेटफॉर्म पर आइसोलेशन वार्ड के तौर पर बनाए गए ट्रेन के डिब्बों को खड़ा किया जाएगा।

10 स्पेशल ट्रेनों का परिचालन अब पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन से

भारतीय रेलवे के मुताबिक आनंद विहार रेलवे स्टेशन यानि कि आनंद विहार टर्मिनल पर आने-जाने वाली 10 स्पेशल ट्रेनों का परिचालन अब पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन से किया जाएगा। नॉर्दर्न रेलवे के मुताबिक कुल 5 जोड़ी ट्रेनों को यानी 10 ट्रेनों को आनंद विहार टर्मिनल से हटाकर पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन भेज दिया गया है। इन सभी 5 जोड़ी ट्रेनों की आवाजाही अब पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन से ही होगी। ये सभी ट्रेनें बिहार और उत्तर प्रदेश को जाती हैं।

ये हैं वो ट्रेनें

इसमें आनंद विहार-मुजफ्फरपुर-आनंद विहार सप्त क्रांति एक्सप्रेस (02557/02558), आनंद विहार-रक्सौल-आनंद विहार सत्याग्रह एक्सप्रेस (05273/05274), आनंद विहार-गाजीपुर-आनंद विहार सुहेलदेव एक्सप्रेस (02219/02220) और आनंद विहार-जोगबनी-आनंद विहार चम्पारण सत्याग्रह एक्सप्रेस (04009/04010) शामिल है।

ये भी देखें: बोर्ड ने 12वीं के रिजल्ट का किया एलान, ऐसे और यहां करें चेक

रेलवे स्टेशन को एक अस्पताल के रूप में स्थापित किया जाएगा

दरअसल, दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और अस्पतालों में बेड नहीं होने के कारण रेलवे ने यह फैसला लिया है। इस फैसले के मुताबिक अब आनंद विहार रेलवे स्टेशन को एक अस्पताल के रूप में स्थापित किया जाएगा और इसके सभी प्लेटफॉर्म पर रेलवे के आइसोलेशन कोच खड़े किए जाएंगे, ताकि कोरोना वायरस के मरीजों को यहां रखा जा सके।

उत्तर रेलवे मंडल की ओर से लिए गए इस फैसले के मुताबिक आनंद विहार के 1 से 7 नंबर प्लेटफॉर्म तक रेलवे के आइसोलेशन वार्ड वाले कोच खड़े किए जाएंगे। रेलवे ने साफ किया है कि इस फैसले के कारण किसी भी ट्रेन को रद्द नहीं किया गया है, बस दिल्ली में उनका स्टेशन बदला गया है।

ये भी देखें: जारी हुआ अलर्ट: अब हो रहा क्लस्टर अटैक, 2 करोड़ लोगों की टेस्टिंग

रेलवे देगा आइसोलेशन कोच

बता दें कि गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कहा था कि केंद्र सरकार दिल्ली को 500 रेलवे कोच उपलब्ध कराएगी, जिससे कोरोना के मरीजों के आइसोलेशन वार्ड में जगह मिल सके। दिल्ली में रेलवे से मिलने वाले आइसोलेशन कोच के बाद यहां बेड की संख्या बढ़कर 8 हजार हो जाएगी। रेलवे के इन आइसोलेशन वार्ड में हर वो मेडिकल सुविधा होगी जो किसी कोरोना मरीज के इलाज के लिए जरूरी हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App