आखिर कैसे हुई छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में 12 हिरणों की मौत

अधिकारियों ने बताया कि वन विभाग को आज हिरणों के मृत होने की जानकारी मिली तब घटनास्थल के लिए वन विभाग का दल रवाना किया गया और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

Published by PTI Published: June 8, 2019 | 10:46 pm

फाइल फोटो

धमतरी: धमतरी जिले के वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिले के नगरी विकासखंड के अंतर्गत मोहलाई गांव में मुरूम की खदान के करीब 12 हिरण मृत पाए गए हैं।  वन विभाग ने जहर मिला पानी पीने से हिरणों की मत्यु होने की आशंका जताई है।

अधिकारियों ने बताया कि वन विभाग को आज हिरणों के मृत होने की जानकारी मिली तब घटनास्थल के लिए वन विभाग का दल रवाना किया गया और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

ये भी देखें : जानें किस बात पर क्रिकेटर रोहित शर्मा ने कहा ‘अब नहीं करूंगा तो कब करूंगा’

उन्होंने बताया कि मोहलाई गांव में एक ठेकेदार मुरूम खदान का संचालन कर रहा है। पिछले दिनों बारिश होने से खदान में पानी भर गया है। आंशका है कि कुछ असमाजिक तत्वों ने खदान के पानी में जहर मिला दिया था। रात में जब प्यासे हिरणों ने खदान का पानी पिया तब उनकी मृत्यु हो गई।

धमतरी के वन मंडल अधिकारी अमिताभ बाजपेयी ने बताया कि केरेगांव वनपरिक्षेत्र में जहर मिला पानी पीने से 12 हिरणों की मौत होने की आशंका है।

ये भी देखें : जानिए क्यों महिला ने गुस्से में पकड़ी केजरीवाल की शर्ट? आगे हुआ ये, देखें वीडियो

हालंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद इस संबंध में सही जानकारी मिल सकेगी।

 

(भाषा)