UNSC में भारत की स्थाई सीट का समर्थन करेगा अमेरिका, 5 समझौतों पर हस्ताक्षर

अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर के मुताबिक, भारत-जापान और अमेरिका साथ में कई सैन्य ऑपरेशंस करेंगे, मालाबार एक्ससाइज़ भी की जाएगी। इसके अलावा दोनों देश डिफेंस इन्फॉर्मेशन शेयरिंग में नए मुकाम पर आगे बढ़ रहे हैं।

Rajnath Singh And S jaishankar

मार्क एस्पर और माइक पॉम्पियो के साथ राजनाथ सिंह और एस जयशंकर(फोटो: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: आज का दिन भारत और अमेरिका दोनों देशों के लिए बेहद ही खास है। मंगलवार को 2+2 वार्ता के तहत दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक Basic Exchange and Cooperation Agreement (बीईसीए) समझौता हुआ है।

इस दौरान दोनों देशों के रक्षा और विदेश मंत्री उपस्थित रहे। बैठक के बाद दोनों देशों की तरफ से बयान जारी किया गया है।

बीईसीए समझौते पर हस्ताक्षर के साथ ही परमाणु सहयोग को लेकर भी आज दोनों देशों के बीच चर्चा की गई। दोनों देशों ने संयुक्त रूप से प्रेस कांफ्रेंस कर चीन को कड़ा संदेश देने का भी काम किया है।

2+2 बैठक के बाद अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। बातचीत शुरू होने से पहले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने दिल्ली स्थित वॉर मेमोरियल पहुंच शहीदों को श्रद्धांजलि दी।जिसमें गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवान भी शामिल थे।

इस दौरान उनके साथ अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर भी मौजूद रहे। बता दें कि दोनों देशों के बीच बीईसीए पर सहमति बनी है। जिसके बाद दोनों देश आपस में मिलिट्री जानकारियां साझा कर पाएंगे, सैटेलाइट और अन्य अहम इनपुट्स बिना किसी रोक-टोक के दोनों देश एक दूसरे को दे पाएंगे।

यह भी पढ़ें: कर्ज लेने वाले ध्यान दें: लोन मोरेटोरियम को लेकर सरकार ने जारी की नई गाइड लाइन

india and us
मार्क एस्पर और माइक पॉम्पियो के साथ राजनाथ सिंह और एस जयशंकर(फोटो: ट्विटर)

इन पांच समझौतों पर किए गए हस्ताक्षर

1. Basic Exchange and Cooperation Agreement (BECA)
2. MoU for technical cooperation on earth sciences
3.Arrangement extending the arrangement on nuclear cooperation
4. Agreement on postal services
5.Agreement on cooperation in Ayurveda and Cancer research

2+2 वार्ता पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने क्या कहा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने बयान में कहा है कि दोनों देशों ने परमाणु सहयोग बढ़ाने को लेकर कई महत्वपूर्ण कदम बढ़ाए हैं, साथ ही भारतीय उपमहाद्वीप में सुरक्षा की स्थिति को लेकर भी विस्तार से बात की है।

उन्होंने आगे कहा कि भारत और अमेरिका की दोस्ती लगातार मजबूत हुई है, 2+2 बैठक में भी दोनों देशों ने कई मामलों पर चर्चा की है। जिसमें कोरोना संकट के बाद की स्थिति, दुनिया की मौजूदा स्थिति, सुरक्षा के मसलों पर बात शामिल है।

यह भी पढ़ें: टॉपर आस्था बनी कोतवालः योगी के मिशन शक्ति का कमाल, ऐसे हुआ ये संभव

us mike pompiyo
माइक पोम्पियो की फोटो(सोशल मीडिया)

अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने क्या कहा?

अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने कहा कि  हम UNSC में भारत की स्थाई सीट का समर्थन करते हैं।

चीन द्वारा फैलाए गए वायरस का असर पूरे विश्व देखने को रहा है, चीन की कम्युनिस्ट पार्टी लगातार कई हथकंडे अपनाकर दुनिया को डराने का प्रयास कर रहा है।

लेकिन भारत और अमेरिका सिर्फ चीन ही नहीं बल्कि अन्य सभी चुनौतियों का मिलकर मुकाबला करने के लिए भी तैयार है। भारत-अमेरिका डिफेंस, साइबर स्पेस, इकॉनोमी के क्षेत्र में साथ हैं और मजबूती के साथ खड़े रहेंगे। हम UNSC में भारत की स्थाई सीट का समर्थन करते हैं।

उन्होंने ये भी कहा की आज के दौर में भारत और अमेरिका की दोस्ती ना सिर्फ एशिया बल्कि दुनिया के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। अमेरिकी रक्षा मंत्री बोले कि चीन की ओर से दुनिया के लिए खतरा बढ़ता जा रहा है, ऐसे में बड़े देशों को साथ आना होगा।

मार्क एस्पर के मुताबिक, भारत-जापान और अमेरिका साथ में कई सैन्य ऑपरेशंस करेंगे, मालाबार एक्ससाइज़ भी की जाएगी। इसके अलावा दोनों देश डिफेंस इन्फॉर्मेशन शेयरिंग में नए मुकाम पर आगे बढ़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें: फंदे से लटकी IPS की पत्नी: नहीं मिला अब तक कोई सुराग, जांच में जुटी पुलिस

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें – Newstrack App

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App