नोबेल विजेता की सलाह, हर भारतीय को हर महीने इतने हजार दे सरकार

नोबेल पुरस्कार विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी ने एक बार फिर कहा है कि इस संकट में सरकार को सीधे गरीबों के बैंक खातों में पैसे डालने चाहिए।

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के चेन को तोड़ने के लिए लाॅकडाउन लागू है। इस लॉकडाउन के कारण सबसे ज्यादा प्रवासी मजदूर और गरीब प्रभावित हुए हैं। नोबेल पुरस्कार विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी ने एक बार फिर कहा है कि इस संकट में सरकार को सीधे गरीबों के बैंक खातों में पैसे डालने चाहिए।

नोबेल विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी Esther Duflo जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के ऑनलाइन फेस्टिव में शामिल हुईं जहां उन्होंने यह बातें कहीं।

यह भी पढ़ें…सैटेलाइट तस्वीरों से खुलासा, भारतीय सीमा पर बड़ी साजिश रच रहा चीन

इस दौरान अभिजीत बनर्जी ने कहा कि सरकार को हर भारतीय को कम से कम 1000 रुपये तुरंत ट्रांसफर करना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने अगले कुछ महीने तक लगातार ट्रांसफर करने की जरूरत है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि सरकार को ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ को भी जल्द से जल्द लागू करना चाहिए।

यह भी पढ़ें…कोरोना संक्रमित का इलाज करने वाले अस्पतालों पर स्वास्थ्य विभाग मेहरबान

अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी Esther Duflo ने ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ स्कीम की तारीफ की। साथ ही Duflo ने कहा कि सरकार को यूनिवर्सल अल्ट्रा बेसिक इनकम (UBI) को तुरंत लागू करने की जरूरत है। जनधन योजना इसी का एक स्वरूप है।

यह भी पढ़ें…मोदी सरकार का एक साल: जश्न का मेगा प्लान, इतना भव्य होगा आयोजन

अभिजीत ने भारत की कोरोना से जंग पर बात करते हुए कहा कि भारत कोरोना वैक्सीन का बहुतायत में उत्पादन कर सकता है, हालांकि जब तक ऐसा नहीं होता भारत को एक और लॉकडाउन के लिए तैयार रहना चाहिए। वैक्सीन उत्पादन के लिए भारत को दसरे देशों के सात मिलकर काम करने की आवश्यकता है ताकि इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी राइट पेटेंट, डिस्ट्रीब्यूशन और फंडिंग से संबंधित बातों को बाकी देशों के साथ मिलकर सुलझाया जा सके।