×

दिग्विजय को बोलने की तमीज नहीं, कांग्रेस शौर्य का सबूत मांग रही : रविशंकर

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पार्टी पर हमला करते हुए कहा, दिग्विजय सिंह ओसामा और हाफिज सईद को जी बोलते हैं। दिग्विजय सिंह पुलवामा आतंकी हमले को दुर्घटना बता रहे हैं। क्या दिग्विजय सिंह का स्तर इतना खराब हो गया है कि उनको भीषण आतंकी हमला दुर्घटना लगता है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 5 March 2019 8:25 AM GMT

दिग्विजय को बोलने की तमीज नहीं, कांग्रेस शौर्य का सबूत मांग रही : रविशंकर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पार्टी पर हमला करते हुए कहा, दिग्विजय सिंह ओसामा और हाफिज सईद को जी बोलते हैं। दिग्विजय सिंह पुलवामा आतंकी हमले को दुर्घटना बता रहे हैं। क्या दिग्विजय सिंह का स्तर इतना खराब हो गया है कि उनको भीषण आतंकी हमला दुर्घटना लगता है। उन्होंने कहा, यही उनकी सोच है दिग्विजय सिंह को बोलने की तमीज नहीं, कांग्रेस वायुसेना के शौर्य का सबूत मांग रही है।



ये भी देखें : आप-कांग्रेस गठबंधन! राजनीति में अपना दुश्मन और दुश्मन का दुश्मन दोस्त होता है

वहीं फजीहत के बाद सिंह ने ट्वीट कर कहा कि वे सेना का सम्मान करते हैं, लेकिन जिस तरह से भाजपा के नेता एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों के अलग-अलग आंकड़े बताकर वायुसेना की इस पूरी कार्रवाई को अपनी सफलता बताकर प्रचारित कर रहे हैं, वह जवानों का अपमान है।

उन्होंने लिखा, हमें हमारी सेना की बहादुरी पर गर्व है। सेना में मैंने अपने कई परिचित व निकट के रिश्तेदारों को देखा है किस प्रकार वे अपने परिवारों को छोड़कर हमारी सुरक्षा करते हैं। हम उनका सम्मान करते हैं। किन्तु पुलवामा हमले के बाद हमारी वायुसेना द्वारा की गयी एयरस्ट्राइक को विदेशी मीडिया में संदेह पैदा किया जा रहा है, उससे भारत सरकार की विश्वसनीयता पर प्रश्नचिह्न लग रहा है।"



ये भी देखें :बीजेपी की वेबसाइट हैक! खोलने पर लिखा आ रहा है ये मैसेज

सिंह ने लिखा "प्रधानमंत्री जी आपकी सरकार के कुछ मंत्री कहते हैं 300 आतंकी मारे गए, भाजपा अध्यक्ष कहते हैं 250 मारे हैं, योगी आदित्यनाथ कहते हैं 400 मारे गये और आपके मंत्री एसएस अहलूवालिया कहते एक भी नहीं मरा और आप इस विषय में मौन हैं। देश जानना चाहता है कि इसमें झूठा कौन है। मोदी जी सवाल ना सियासत का है ना सत्ता का। सवाल उन बिलखती बहनों का है जिन्होंने अपने भाई खोए हैं। सवाल उस मॉं का है जिसके लाडले की शाहदत हुई है और सवाल उस वीरांगना का है जिसने अपना पति खोया है। इनके सवालों का जवाब आप कब देंगे?"



वहीं अहमदाबाद में पीएम श्रमयोगी मानधन योजना की शुरुआत करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, जिनके लिए गरीबी सिर्फ फोटो खिंचवाने का खेल होता है, जिसे कभी भूखे पेट सोने का दर्द नहीं पता, उसके लिए गरीबी एक मानसिक अवस्था होती है। हमारे लिए तो गरीबी एक बहुत बड़ी चुनौती है। गरीबी से जूझने के लिए पूरा परिवार खप जाता है।



उन्होंने कहा, गरीबों के नाम पर वोट बटोरने वालों ने 55 साल तक देश में राज किया, लेकिन असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए कोई योजना नहीं बनाई।



ये भी देखें : राहुल गांधी के साथ डेट पर जाना चाहती थीं करीना!

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story