संसद में घुसने की कोशिश कर रहा अख्तर गिरफ्तार, 3 जिंदा कारतूस बरामद

दिल्ली पुलिस ने संसद भवन परिसर में घुसते एक शख्स को सुरक्षाकर्मियों ने गुरुवार की शाम को उस वक्त पकड़ लिया जब वह जिंदा कारतूस के साथ अंदर जा रहा था।

Published by Aditya Mishra Published: March 5, 2020 | 7:48 pm
Modified: March 5, 2020 | 8:28 pm

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने संसद भवन परिसर में घुसते एक शख्स को सुरक्षाकर्मियों ने गुरुवार की शाम को उस वक्त पकड़ लिया जब वह जिंदा कारतूस के साथ अंदर जा रहा था।

कारतूस के साथ संसद घुसते गिरफ्तार

“अख्तर नाम का एक शख्स गेंट नंबर 8 से संसद के अंदर घुस रहा था। उसके पॉकेट से 3 राउंड जिंदा कारतूस बरामद किए गए, जिसे उसने सुरक्षाकर्मियों से कहा कि वह अंदर आने से पहले बाहर रखना भूल गया। बाद में सुरक्षाकर्मियों ने उसे पुलिस को सौंप दिया है, जिसके बाद उसकी पूछताछ की जा रही है।”

वैरिफिकेशन के बाद पुलिस ने छोड़ा

दिल्ली पुलिस ने बताया कि पॉकेट में तीन राउंड जिंदा कारतूर के साथ संसद में घुसते अख्तर खान को सुरक्षाकर्मियों ने आज पकड़ा था, लेकिन उसे वैरिफिकेशन के बाद छोड़ दिया गया।

ये भी पढ़ें…बदल गया पीएमओ से संसदीय कार्यालय का पता, अब मिलेंगी ये सुविधाएं

दिल्ली हिंसा: पिस्तौल तानने वाले शाहरुख की कार बरामद 

संशोधन कानून (सीएए) को लेकर पिछले महीने दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान पुलिस पर पिस्तौल तानने वाले शाहरुख की उस कार को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने शामली से बरामद कर लिया है जिसका इस्तेमाल वह 24 फरवरी को मौजपुर में गोली चलाने के बाद अलग-अलग शहरों में पनाह लेने के लिए कर रहा था।

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने यूपी के शामली से कार बरामद करने के साथ-साथ उसका मोबाइल भी बरामद कर लिया है। मोबाइल इसी कार से ही बरामद किया गया। क्राइम ब्रांच की टीम शाहरुख के मोबाइल खंगाल रही है. सूत्रों का दावा है कि मोबाइल से दंगे से जुड़े राज का खुलासा हो सकता है।

शाहरुख यूपी से हुआ गिरफ्तार, दिल्ली हिंसा में पुलिस पर तानी थी पिस्तौल

अब तक हथियार बरामद नहीं

हालांकि पुलिस को अब तक हथियार बरामद नहीं हुआ है, लेकिन क्राइम ब्रांच का दावा है वो भी जल्द बरामद होगा। इससे पहले क्राइम ब्रांच की टीम कल बुधवार को शाहरुख को लेकर शामली पहुंची थी। शाहरुख को मंगलवार को ही शामली से गिरफ्तार किया गया था।

गिरफ्तारी के बाद क्राइम ब्रांच की टीम शाहरुख की पिस्तौल और मोबाइल बरामद करने की कोशिश में जुटी हुई थी। साथ ही पुलिस उस गाड़ी की तलाश में थी जिसकी मदद से शाहरुख शामली पहुंचा था।

पुलिस हिंसा से जुड़े पूरे मामले की साजिश से पर्दा उठाना चाहती है कि आखिर किस तरह से शाहरुख वहां पहुंचा था। क्या वह किसी गैंग का हिस्सा था या वह खुद ही अकेले वहां पहुंचा था।

ये भी पढ़ें…दिल्ली हिंसा: अब तक 654 FIR दर्ज, 1820 लोगों की धरपकड़

दिल्ली हिंसा: फरार ताहिर का नया पैतरा, गिरफ्तार से बचने की लगाई तरकीब 

मुखबिर की मदद से हत्थे चढ़ा शाहरुख

शुरुआती जानकारी के मुताबिक, शाहरुख ने बताया कि वह अकेला ही पहुंचा था और गुस्से में आकर उसने गोलियां चलाईं थीं।
दिल्ली पुलिस ने आरोपी शाहरुख को गिरफ्तार करने के लिए कई टीमें बनाई थी।

1 मुखबिर शाहरुख की लोकेशन लगातार क्राइम ब्रांच को भेज रहा था, जिस वक्त वह शामली बस स्टैंड पर पहुंचा, उसी वक्त मुखबिर ने पुलिस को भी उस जगह पहुंचने का इशारा किया, शाहरुख बस में चढ़ने ही वाला था तभी पुलिस ने उसे पकड़ किया।

 

दिल्ली को आग में झोंकने वाला दंगाई ताहिर हुसैन गिरफ्तार, किया ये बड़ा खुलासा