Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

अलर्ट मोदी सरकार: अब किसान आंदोलन पर सटीक नजर, विदेशी कॉल्स की मॉनिटरिंग

सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि कुछ लोगों को ऐसी ही होनी वाली बातचीत के लिए चिन्हित भी किया गया है। उनकी निगरानी की जा रही है। कुछ सुराग मिलते ही उनसे पूछताछ भी होगी।

Chitra Singh

Chitra SinghBy Chitra Singh

Published on 3 Feb 2021 12:48 PM GMT

अलर्ट मोदी सरकार: अब किसान आंदोलन पर सटीक नजर, विदेशी कॉल्स की मॉनिटरिंग
X
अलर्ट मोदी सरकार: अब किसान आंदोलन पर सटीक नजर, विदेशी कॉल्स की मॉनिटरिंग
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: किसानों को देश-विदेश से मिल रहे समर्थन को देखते हुए केन्द्र सरकार ने निगरानी के लिए कुछ खास टीमें बनाई है। ये टीम कनाडा, न्यूजीलैंड, अमेरिका और इंग्लैंड से आने वाली हर छोटी-बड़ी कॉल्स की निगरानी करेगी। साथ ही सोशल मीडिया पर आंदोलन से जुड़ें बहस पर भी अपनी पैनी नजर बनाई रहेगी।

विदेशी कॉल्स पर सरकार की पैनी नजर

आपको बता दें कि किसान आंदोलन के चलते सरकार ने सुरक्षा एजेंसियों समेत साइबर एक्सपर्ट्स की करीब तीन सौ लोगों की खास टीम बनाई है। सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली हिंसा को देखते हुए किसान आंदोलन के माध्यम से कोई दूसरी गलती न हो, इसके लिए विदेशों खासकर कनाडा, न्यूजीलैंड, यूएसए और यूके से आने वाली कॉल्स को रिकॉर्ड किया जाएगा, चाहे वह कॉल छोटी हो या फिर बड़ी।

यह भी पढ़ें... महापंचायत में टिकैत की हुंकार: बोले- जब-जब राजा डरता है तो करता है ऐसा काम

इन कॉल्स पर है सुरक्षा एजेंसियों की नजरें

सूत्र बताते है कि यदि किसी नबंर पर दिन भर में कई बार कॉल आते है और उस कॉल की अवधि एक मिनट से कम है तो उन पर बहुत ज्यादा निगरानी रखी जाएगी। वहीं सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि कुछ लोगों को ऐसी ही होनी वाली बातचीत के लिए चिन्हित भी किया गया है। उनकी निगरानी की जा रही है। कुछ सुराग मिलते ही उनसे पूछताछ भी होगी।

kisan andolan

इन राज्यों पर कड़ा पहरा

बता दें कि किसान आंदोलन की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए सरकार ने कई राज्यों में पहरा बढ़ा दिया है। खबर है कि सुरक्षा एजेंसियां दिल्ली, पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पश्चिम बंगाल और केरल जैसे तमाम राज्यों की कॉल्स पर भी अपनी नजर बनाई हुई है।

यह भी पढ़ें... राहुल बोले: किलेबंदी क्यों? किसान नहीं सरकार को हटना होगा, बेहतर है आज हट जाएं

हर नेता पर भी है नजर

इस मामले पर एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया है, “आंदोलन से जुड़े हर नेता को उनके सोशल मीडिया अकाउंट और स्थानीय खुफिया एजेंसी के इनपुट के आधार पर मॉनिटर किया जा रहा है। शांति व्यवस्था बहाली के लिए ऐसा जरूरी है।”

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story