×

अलवर में मिला संदिग्ध कबूतर: सुरक्षा एजेंसियां हुईं अलर्ट, पंख पर लिखा ‘बैक टू लाहौर’

फिलहाल पुलिस द्वारा इस मामले की जांच के लिए सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है। पुलिस ने इस कबूतर को थाने में ही रखा हुआ है। ये कबूतर बीते 28 फरवरी की रात को मिला था।

Shreya
Published on 4 March 2021 7:16 AM GMT
अलवर में मिला संदिग्ध कबूतर: सुरक्षा एजेंसियां हुईं अलर्ट, पंख पर लिखा ‘बैक टू लाहौर’
X
अलवर में मिला संदिग्ध कबूतर: सुरक्षा एजेंसियां हुईं अलर्ट, पंख पर लिखा ‘बैक टू लाहौर’
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

अलवर: राजस्थान (Rajasthan) के अलवर (Alwar) जिले में एक संदिग्ध कबूतर (Suspected Pigeon) बरामद हुआ है। जिसने पुलिस-प्रशासन के होश उड़ा दिए हैं। बताया जा रहा है कि ये कबूतर पांच दिन पहले बहरोड़ पुलिस थाना इलाके के कुरेली गांव में मिला था। उस पर एक टैग भी लगा हुआ है। कबूतर के एक पंख पर 'बैक टू लाहौर' (Back to Lahore) और मोबाइल नंबर भी लिखा हुआ है।

सुरक्षा एजेंसियों को किया गया अलर्ट

यही नहीं, उस पर GPS टैग भी लगा है। फिलहाल पुलिस द्वारा इस मामले की जांच के लिए सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है। लेकिन अब तक जांच एजेंसियां पहुंची नहीं हैं। इसलिए पुलिस ने इस कबूतर को थाने में ही रखा हुआ है और इसकी यहीं पर देखभाल की जा रही है। इस संदिग्ध कबूतर के लिए पिंजरा तक मंगवाया गया है।

यह भी पढ़ें: Vaccination 2.0: केजरीवाल-मनोज सिन्हा को लगी वैक्सीन, इनको मिली पहली डोज

थाना अधिकारी ने मामले में बताई ये बात

मामले में बहरोड़ थाना अधिकारी विनोद सांखला ने बताया कि कुरेली गांव में बीते 28 फरवरी की रात को लगभग दस बजे के आसपास जानकारी मिली थी कि एक कबूतर किसी युवक के कंधे पर आकर बैठ गया। बताया गया कि उसके पंख पर कुछ टैग लगा हुआ है और उस पर कुछ मोबाइल नंबर भी लिखे हुए हैं। सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर जाकर जांच-पड़ताल की और बाद में उसे थाने लेकर आ गई।

यह भी पढ़ें: नई संसद में सुरंगः रास्ता जाएगा पीएम आवास तक, VIP सुरक्षा-आवागमन होगा सुगम

मामले की जांच है जारी

अधिकारी ने बतााय कि कबूतर संदेहास्पद है। उच्च अधिकारियों को इस बारे में अवगत कराया जा चुका है। साथ ही मिलिट्री इंटेलीजेंस को भी सूचना दे दी गई है। कबूतर के पैरों में लगी टेपनुमा वस्तु को निकालकर जांच के लिए भेज दिया गया है। अभी आगे की जांच जारी है। गौरतलब है कि राजस्थान में पाकिस्तान से लगते सीमावर्ती इलाकों जैसे श्रीगंगानगर, बीकानेर, जैसलमेर और बाड़मेर में भी ऐसे पक्षी अक्सर आया करते हैं।

यह भी पढ़ें: घातक कोरोना पर आदेशः किसी भी दिन और समय लगेगी वैक्सीन, हुआ बड़ा एलान

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story