मदर डेयरी और अमूल दूध का जोरदार झटका: बढ़ाए दाम, यहां जानें नए रेट्स

मदर डेयरी ने टोकन मिल्क के भाव में 2 रुपये का इजाफा किया है, जिसके बाद यह 42 रुपये प्रति लीटर हो गया है। वहीं, फुल क्रमी मिल्क के भाव में भी इतनी ही बढ़ोतरी की गई है, जिसके बाद अब यह 55 रुपये प्रति लीटर के भाव से बिकेगा। आधे लीटर फुल क्रीम दूध का भाव 27 रुपये से बढ़कर 28 रुपये हो गया है।

file photo

नई दिल्ली: दूध का उपयोग करने वालों को डेयरी कंपनियों ने तगड़ा झटका दिया है। मदर डेयरी और अमूल दूध ने अपने दूध के दामों को बढ़ाने का फैसला किया है। मदर डेयरी के दूध की कीमतों में यह बढ़ोतरी दिल्ली-NCR क्षेत्र में रविवार से लागू हो जाएंगी। मदर डेयरी ने दूध की कीमतों में बढ़ोतरी करने के फैसले के बारे में शनिवार को जानकार दी।

ये भी पढ़ें—कभी विजय माल्या के साथ वायरल हुई थीं तस्वीरें, जानिए अब कहा है ये बोल्ड एक्ट्रेस

वहीं देश की बड़ी और जानी-मानी कंपनी अमूल ने दूध की कीमतें बढ़ाने का फैसला किया है। कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया है। 15 दिसंबर 2019 से दूध की कीमतें 2 रुपये तक बढ़ा दी है। अब अमूल गोल्ड के 500 ग्राम पाउच की कीमत 27 से बढकर 28 रुपये हो गई है। वहीं, अमूल ताजा के 500 ग्राम पाउच के दाम 21 से बढकर 22 रुपये हो गए है। बता दें कि मदर डेयरी दिल्ली-NCR के क्षेत्र में हर रोज करीब 30 लाख लीटर दूध सप्लाई करता है। इसमें से 8 लाख लीटर दूध गाय का होता है।

दूध के नए दाम

मदर डेयरी ने टोकन मिल्क के भाव में 2 रुपये का इजाफा किया है, जिसके बाद यह 42 रुपये प्रति लीटर हो गया है। वहीं, फुल क्रमी मिल्क के भाव में भी इतनी ही बढ़ोतरी की गई है, जिसके बाद अब यह 55 रुपये प्रति लीटर के भाव से बिकेगा। आधे लीटर फुल क्रीम दूध का भाव 27 रुपये से बढ़कर 28 रुपये हो गया है।

ये भी पढ़ें—अभी-अभी: जवानों को गोलियों से भूना, सोते हुए हुआ बड़ा हमला-कईयों की मौत

टोन्ड व डबल टोन्ड के भी भाव बढ़े- टोन्ड दूध के भाव में 3 रुपये प्रति लीटर का इजाफा किया गया है। अब इसका भाव 45 रुपये प्रति लीटर हो गया है। वहीं, डबल टोन्ड दूध का भाव 39 रुपये हो गया है, जोकि पहले 36 रुपये प्रति लीटर था। वहीं, काउ​ मिल्क का भाव भी 3 रुपये प्रति लीटर बढ़ा है, जिसके बाद यह 47 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

क्यों बढ़ाए गए दाम

दोनों बड़ी कंपनी अमूल और मदर डेयरी का कहना है कि देशभर के कई राज्यो में दूध उत्पादन में कमी आई है। इसका सबसे बड़ा कारण मॉनसून और फ्लश सीजन के शुरू होने में देरी की वजह से हुआ है। वहीं, पर्यावरण के दुष्प्रभाव का भी असर इस पर पड़ा है, जिसके बाद चारे के दाम में भी इजाफा हुआ है. यही कारण है कि दूध उत्पादकों के लिए मुश्किलें खड़ी हो गई है। आमतौर पर, सर्दी के मौसम में कच्चे तेल का भाव कम होता है।’

ये भी पढ़ें—जियो का ये वाला प्लान: वाकई में है दमदार, देखें मचा रहा तहलका

सितंबर में भी महंगा हुआ था मदर डेयरी का दूध

गौरतलब है कि बीते सितंबर माह में ही मदर डेयरी ने दूध की कीमतों में 2 रुपये प्रति लीटर का इजाफा किया था।