एक और हथिनी की मौत, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा

गर्भवती मादा हाथी विनायकी की मौत का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ कि इस बीच एक और मादा हाथी की मौत का मामला सामने आया है। मादा हाथी के शव को जांच के लिए भेजा है। रिपोर्ट में पता चला कि उसके जबड़े में चोट आई हुई थी।

नई दिल्ली: केरल में गर्भवती मादा हाथी विनायकी की मौत का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ कि इस बीच एक और मादा हाथी की मौत का मामला सामने आया है। मादा हाथी के शव को जांच के लिए भेजा है। रिपोर्ट में पता चला कि उसके जबड़े में चोट आई हुई थी।

पठानपुरम के जंगलों में मादा हाथी की मौत

दरअसल, केरल के पठानपुरम के जंगलों में एक जलधारा के पास वन विभाग के अधिकारियों को एक घायल हथिनी मिली। वह काफी कमजोर थी। अधिकारियों ने उसे दवा देने का प्रयास किया लेकिन वह अचानक गिर गयी। जिसके बाद उसकी मौत हो गयी।

एक महीने से था जबड़ा फ्रैक्चर

वहीं जब उसका पोस्टमार्टम कराया गया तो पता चला कि हथिनी का जबड़ा फ्रैक्चर था। ये फ्रैक्चर उसे महीने भर से था। बताया जा रहा है कि किसी गलत चीज को खाने के कारण उसका जबड़ा फ्रैक्चर हुआ होगा। हालाँकि अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें-अडानी ग्रुप को चाहिए छह महीने, इस काम के लिए मांगा सरकार से वक्त

गौरतलब है कि इसके पहले केरल के मल्लपुरम में शर्मनाक मामला सामने आया, जहां गर्भवती हथिनी को फल में पटाखे मिलाकर खिलाने के कारण उसकी मौत हो गई। इस मामले को लेकर पूरे देश में नाराजगी है। केंद्र सरकार ने भी इसका संज्ञान लिया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि मल्लपुरम में हथिनी को मारने की घटना को केंद्र सरकार ने गंभीरता से लिया है।

 

जानिए क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि मल्लपुरम से इंसानियत को झकझोर देने वाली तस्वीर सामने आई थी। यहां एक गर्भवती हथिनी खाने की तलाश में जंगल के पास वाले गांव पहुंच गई, लेकिन वहां शरारती तत्वों ने अनन्नास में पटाखे भरकर हथिनी को खिला दिया, जिससे उसका मुंह और जबड़ा बुरी तरह से जख्मी हो गए।

यह भी पढ़ें…अप्पू हाथी ने माँगा इंसाफ, केरल की हथनी को लेकर हुआ दुखी

वन विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक, विस्फोटक से उसके दांत भी टूट गए थे। इसके बाद भी हथिनी ने गांव में किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया और वो वेलियार नदी पहुंच गई, जहां तीन दिन तक पानी में मुंह डाले खड़ी रही। बाद में उसकी और गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत हो गई।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App