×

एंटीलिया केस: सचिन वाजे का बड़ा बयान, कहा- 'मुझे बनाया जा रहा है बलि का बकरा

मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे को 3 अप्रैल तक एनआईए की हिरासत बढ़ा दी गई है। इस मामले में सचिन वाझे ने गुरुवार को एनआईए कोर्ट में बयान दिया कि उनका अपराध से कोई लेना देना नहीं है और उन्हें बलि का बकरा बनाया जा रहा है।

Newstrack
Updated on: 25 March 2021 2:17 PM GMT
एंटीलिया केस: सचिन वाजे का बड़ा बयान, कहा- मुझे बनाया जा रहा है बलि का बकरा
X
एंटीलिया केस: सचिन वाजे का बड़ा बयान, कहा- 'मुझे बनाया जा रहा है बलि का बकरा
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंबई: एंटीलिया मामले में गिरफ्तार किए गए मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे को 3 अप्रैल तक एनआईए की हिरासत बढ़ा दी गई है। इस मामले में सचिन वाझे ने गुरुवार को एनआईए कोर्ट में बयान दिया कि उनका अपराध से कोई लेना देना नहीं है और उन्हें बलि का बकरा बनाया जा रहा है।

वाजे को 13 मार्च को एनआईए ने गिरफ्तार किया था

बता दें कि मुंबई पुलिस के असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वाजे को 13 मार्च को एनआईए ने गिरफ्तार किया था। रिमांड खत्म होने के बाद आज वाजे को कोर्ट में पेश किया गया था। एनआई ने वाजे के खिलाफ यूएपीए की धाराएं लगाई हैं और 15 दिनों की कस्टडी मांगी थी।

antiliya case-1

मुझे बलि का बकरा बनाया गया है-वाजे

कोर्ट में वाजे ने सुनवाई के दौरान जज पीपी सितरे से कहा कि ''मुझे बलि का बकरा बनाया गया है, मेरा केस से कोई लेना देना नहीं है। मैं केवल डेढ़ दिन के लिए केस का जांच अधिकारी था और जो अपनी क्षमता में कर सकता था वह किया।

लेकिन अचानक कहीं कुछ प्लान बदल दिया गया। मैं खुद ही एनआईए ऑफिस गया था और गिरफ्तार कर लिया गया। 'वाजे ने यह भी कहा कि उन्होंने कोई जुर्म कबूल नहीं किया है।'

ये भी देखें: आमिर के बाद ये एक्टर पॉजिटिवः ऐसे फनी अंदाज में दी जानकारी

पुलिसकर्मी की संलिप्तता पाकर हर कोई हैरान-अनिल सिंह

सुनवाई के दौरान एनआईए के वकील अडिशनल सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह ने कोर्ट से कहा कि अपराध में किसी पुलिसकर्मी की संलिप्तता पाकर हर कोई हैरान था।

जांच के दौरान एनआई ने वाझे के घर से 62 बुलेट जब्त किए और इसकी जांच की आवश्यकता है कि इन्हें वाजे ने क्यों रखा था। पुलिस डिपार्टमेंट ने वाजे को 30 बुलेट जारी किए थे जिनमें से केवल 5 ही बरामद हुए हैं।

mansookh hiren

उधर, एनआईए सूत्रों ने बताया कि सजिन वाजे ने जांच एजेंसी के सामने स्वीकार कर लिया है कि विस्फोटक वाली कार के पीछे उन्हीं का हाथ है। वाजे ने बताया कि एंटीलिया (मुकेश अंबानी का घर) के बाहर विस्फोटक इसलिए रखा क्योंकि जांच अधिकारी के रूप में इस केस को सॉल्व करके सुपर कॉप बनना चाहता था।

ये भी देखें: झांसी में नन के साथ दुर्व्यवहार का खामियाजा केरल में चुकाएगी भाजपा

सचिन वाजे के खिलाफ यूएपीए की धाराएं भी लग चुकी हैं

एनआईए ने एंटीलिया के पास से विस्फोटक मिलने के मामले में आरोपी निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाजे के खिलाफ बुधवार को गैरकानूनी गतिविधियां (निवारण) अधिनियम (यूएपीए) की धाराएं भी लगाई हैं। एनआईए ने विशेष एनआईए अदालत को इस मामले में यूएपीए की धाराएं जोड़ने की जानकारी देते हुए बुधवार को अर्जी दाखिल की।

Newstrack

Newstrack

Next Story