आसाराम पर बड़ी खबर: कोर्ट ने लिया ये बड़ा फैसला, समर्थकों में खुशी की लहर

अप्रैल 2018 जोधपुर स्पेशल कोर्ट ने आसाराम को नाबालिग लड़की के साथ रेप करने का दोषी पाए गए थे। अदालत ने आसाराम को पोस्को कानून के तहत आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

Published by Shraddha Khare Published: November 24, 2020 | 9:18 am
Modified: November 24, 2020 | 11:30 am
asaram bapu

आसाराम पर बड़ी खबर: कोर्ट ने लिया ये बड़ा फैसला, सर्मथकों में खुशी की लहर photos (social media)

नई दिल्ली : यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम बापू की जमानत की अर्जी जोधपुर कोर्ट ने स्वीकार कर ली है। आपको बता दें कि आसाराम बापू काफी सालों से जेल में बंद है। आसाराम को एक नाबालिग लड़की ने साथ रेप का दोषी पाया गया था। अदालत में इनके खिलाफ पोस्को कानून के तहत आजीवन कारावास की सजा और एक लाख रुपये का जुर्माना सुनाया गया है।

आसाराम की अर्जी

यौन शोषण के आरोप में आसाराम 2013 से जेल में बंद है। आसाराम ने अपनी जमानत पर अर्जी दी और कहा ‘मैं एक 80 साल का वृद्ध हूं और मैं 2013 से जेल में बंद हूं ‘ इन्होंने अपनी सुनवाई के लिए कोर्ट को जल्द से जल्द फैसला लेना को कहा है। आसाराम की अर्जी जोधपुर कोर्ट ने स्वीकार कर ली है। कोर्ट ने जनवरी के जनवरी के तीसरे में सुनवाई होने का आदेश दिया है।

कौन – कौन मामलों में है केस दर्ज

आसाराम के ऊपर पोस्को, रेप,जुवेनाइनल जस्टिस एक्ट,आपराधिक षडयंत्र और कई मामलों में केस दर्ज है। आपको बता दें कि 31 अगस्त 2013 को इन्हें मध्य प्रदेश के इंदौर से गिरफ्तार किया गया था। एक नाबालिग लड़की ने इन पर मनाई आश्रम में आसाराम पर रेप का आरोप लगाया था। 2014 में आसाराम की याचिका को खारिज किया गया है।

यह भी पढ़ें:  रेलयात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी: रेलवे ने चलाईं 40 ट्रेनें, देखें पूरी लिस्ट

किताब ‘गनिंग फॉर द गॉडमैन’

अप्रैल 2018 जोधपुर स्पेशल कोर्ट ने आसाराम को नाबालिग लड़की के साथ रेप करने का दोषी पाए गए थे। अदालत ने आसाराम को पोस्को कानून के तहत आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। हाल ही में दिल्ली के उच्च न्यायालय ने इनकी अपील को खारिज कर दिया था। आपको बता दें कि आसाराम बापू के खिलाफ एक किताब छपी है। जो इनके आपराधिक मामलों को लेकर बानी है। इस किताब का नाम ‘गनिंग फॉर द गॉडमैन’ है। इस किताब को प्रकाशन के लिए अनुमति दी गई थी।

यह भी पढ़ें: PM मोदी के चुनाव के खिलाफ तेजबहादुर की याचिका, कल आएगा SC का फैसला

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App