×

बिहार में कन्हैया कुमार पर फिर हमला, लोगों ने फेंका अंडा-मोबिल, मची अफरा-तफरी

जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर एक बार फिर से हमला किया गया है। यह हमला बिहार के जमुई में हुआ है, जहां उनके काफिले पर आक्रोशित लोगों ने अंडा और मोबिल फेंक दिया।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 10 Feb 2020 11:52 AM GMT

बिहार में कन्हैया कुमार पर फिर हमला, लोगों ने फेंका अंडा-मोबिल, मची अफरा-तफरी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

पटना: जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर एक बार फिर से हमला किया गया है। यह हमला बिहार के जमुई में हुआ है, जहां उनके काफिले पर आक्रोशित लोगों ने अंडा और मोबिल फेंक दिया। कन्हैया के काफिले पर हमला जमुई के महिसौरी बस स्टैंड के पास हुआ।

हंगामा, अंडे और मोबिल से हमले के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। इस दौरान कन्हैया कुमार के समर्थकों और स्थानीय लोगों के बीच झड़प भी हुई। इसके बाद मौके पर मौजूद पुलिस और पदाधिकारियों ने मामला शांत कराया, जिसके बाद कन्हैया कुमार का काफिला आगे बढ़ पया।

सीपीआई नेता कन्हैया कुमार रविवार को 'जन गण मन यात्रा' पर जमुई पहुंचे थे। उन्‍होंने एक सभा को भी संबोधित किया। जमुई परिसदन में रात्रि विश्राम करने के बाद कन्हैया कुमार का काफिला सोमवार को जैसे ही लखीसराय के समीप महिसौरी बस स्टैंड के पास पहुंचा, कुछ लोगों ने उनके खिलाफ नारेबाजी करते हुए हमला कर दिया।

यह भी पढ़ें...शाहीन बाग पर बड़ी खबर: प्रदर्शन को लेकर SC ने कही ये बात

अंडे और मोबिल से हमला करने वाले युवक घटनास्थल से चले गए, लेकिन कन्हैया कुमार के समर्थकों और स्थानीय लोगों के बीच काफी नोकझोंक हुई। इस दौरान मौके पर मौजूद पत्रकारों के साथ कन्हैया के समर्थकों ने बदसलूकी भी की।

यह भी पढ़ें...गार्गी कॉलेज की छात्राओं का हल्लाबोल: धरने पर बैठी स्टूडेंट्स, संसद तक मुद्दा

जमुई शहर के स्टेडियम मैदान में रविवार को भी आयोजित कन्हैया की सभा के बाद बीजेपी मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की थी। रविवार को जैसे ही कन्हैया कुमार की सभा समाप्त हुई और काफिला परिसदन के लिए निकला भाजयुमो के कार्यकर्ताओं ने सड़क पर कन्हैया कुमार के वाहन को रोक पर जमकर नारेबाजी की थी।

यह भी पढ़ें...SC/ST एक्ट पर बड़ा फैसला, सुप्रीम कोर्ट ने दी मोदी सरकार को राहत

पहले भी हुआ था हमला

यह पहला मामला नहीं है जब कन्हैया कुमार को लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ा है। इससे पहले उनके काफिले पर सुपौल में भी हमला हुआ था। बुधवार को सुपौल में जनसभा को संबोधित करने के बाद सहरसा जा रहे कन्हैया कुमार के काफिले पर यहां के मल्लिक चौक के पास कुछ लोगों ने पत्थरों से हमला किया था। इस हमले में काफिले की एक गाड़ी के ड्राइवर का सिर फट गया।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story