×

जो सबूत मांग रहे हैं उनके लिए, जैश ने माना-भारत के लड़ाकू विमानों ने मचाई तबाही

पाकिस्तान सरकार उनकी सेना और कुछ भारतीय भले ही बालाकोट हमले में भारत की कार्रवाई और उसमें हुए नुकसान की खबरों को नकार रहे हो। लेकिन आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने स्वयं हुए बड़े नुकसान के बारे में बताया है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 3 March 2019 5:52 AM GMT

जो सबूत मांग रहे हैं उनके लिए, जैश ने माना-भारत के लड़ाकू विमानों ने मचाई तबाही
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : पाकिस्तान सरकार उनकी सेना और कुछ भारतीय भले ही बालाकोट हमले में भारत की कार्रवाई और उसमें हुए नुकसान की खबरों को नकार रहे हो। लेकिन आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने स्वयं हुए बड़े नुकसान के बारे में बताया है। जैश चीफ मसूद अजहर के छोटे भाई मौलाना अम्मार ने एक ऑडियो क्लिप में इस बात को माना है कि भारत के फाइटर प्लेन बालाकोट आए थे और अपने पीछे तबाही के निशाना छोड़ गए हैं।

सूत्रों के मुताबिक ये ऑडियो एयरस्ट्राइक के एक दिन बाद पेशावर में हुई जनसभा का है।

वायरल हो रहे इस ऑडियो में, मौलाना अम्मार बम गिराने की बात कर रहा है। अम्मार उन ठिकानों को तबाह करने पर बेहद नाराज है।

ये भी देखें : पाक विदेश मंत्री कुरैशी बोले, ‘जैश ने पुलवामा हमला किया, हमें भरोसा नहीं’

क्या है इस ऑडियो में

मौलाना ने कहा, आज जब दुश्मन पहाड़ों को पार कर हमारी जमीन में घुसकर इस्लामिक सेंटर पर हमला किया, दुश्मन ने खुद ही सभी सवालों का जवाब दे दिया है। दुश्मन ने जंग का आगाज कर दिया है।

ये भी देखें : ‘मोदी जी’ मीडिया के पास देश की खुफिया जानकारी से लेकर हर बात का है समाधान, इसे आगे करें

उसने कहा, भारत के लड़ाकू विमान ने किसी एजेंसी के सेफ हाउस को निशाना नहीं बनाया है, किसी भी एजेंसी को हेडक्वॉर्टर पर बम नहीं फेंका है। उन्होंने हमारे केंद्र को निशाना बनाया, जहां स्टूडेंट जिहाद के बारे में सीख रहे हैं, ताकि वे कश्मीर के मुसलमानों की मदद कर सकें। यह किसी एजेंसी का जिहाद नहीं है कि वे अपनी सीमा से बाहर आए और हम पर हमला किया। भारत चाहता है कि हम उसके खिलाफ हमारा जिहाद शुरू करें।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story