Top

देसी कोरोना वैक्सीन पर बड़ी खबर, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी ये खुशखबरी

स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह भी बताया कि ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन का ट्रायल भी तीसरे चरण में है। इसके नतीजों के नवंबर से दिसंबर तक आने की संभावना है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 13 Oct 2020 3:29 PM GMT

देसी कोरोना वैक्सीन पर बड़ी खबर, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी ये खुशखबरी
X
स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन का ट्रायल भी तीसरे चरण में है। इसके नतीजों के नवंबर से दिसंबर तक आने की संभावना है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कोरोना वायरस की महामारी की मार झेल रहे देश को थोड़ी राहत मिली है। कोरोना के नए मामलों में गिरावट आई है। इसके साथ ही रिकवरी रेट में इजाफा हुआ है। कोरोना से होने वाली मौत के दर में भी कमी आई है। अब इस बीच एक अच्छी खबर सामने आई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल जल्द शुरू होगा।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह भी बताया कि ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन का ट्रायल भी तीसरे चरण में है। इसके नतीजों के नवंबर से दिसंबर तक आने की संभावना है। वैक्सीन की खरीद के लिए धन से जुड़े पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए स्वास्थ्य सचिव ने बताया वैक्सीन बनाने वालों को प्री-क्लिनिकल ट्रायल में मदद के लिए वित्तीय सहायता दी जा रही है। इसके साथ अन्य विकल्पों पर भी विचार हो रहा है।

स्वास्थ्य सचिव ने इस पर जताई चिंता

उन्होंने बताया कि सिंगल डोज और डबल डोज टीके अभी विकसित किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य सचिव ने कोरोना से हुई मौतों की चर्चा करते हुए कहा कि इनमें से 10 प्रतिशत 26 से 44 साल के आयु वर्ग के युवा हैं। राजेश भूषण ने इस पर चिंता जताया और कहा कि 35 प्रतिशत 45 से 60 साल आयु वर्ग के लोग हैं।

ये भी पढ़ें...त्योहारों से पहले यात्रियों को तोहफा: रेलवे ने किया ये बड़ा ऐलान, जानकर झूम उठेंगे आप

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव ने आगे बताया कि अब तक कोरोना के 62 लाख मरीज इलाज के बाद ठीक हो गए हैं। देश में पॉजिटिविटी रेट 8.07 प्रतिशत है। देश में इस समय कोरोना के 9 लाख से कम एक्टिव केस हैं। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग बढ़ी है और पॉजिटिविटी रेट कम हो गया है। एक दिन में 11 लाख 36 हजार टेस्ट किए गए हैं।

Bharat Biotech Vaccine

ये भी पढ़ें...बंगाल की खाड़ी से उठा तूफान: इन राज्‍यों में होगी मूसलाधार बारिश, IMD का अलर्ट

महाराष्ट्र और कर्नाटक में सबसे ज्यादा मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश के 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में टेस्टिंग, देश के प्रति 10 लाख पर टेस्टिंग के औसत से ज्यादा है। इन प्रदेशों में पॉजिटिविटी रेट भी राष्ट्रीय औसत से नीचे है। प्रतिदिन नए मामलों के लिहाज से केरल देश में तीसरे नंबर पर है। कुछ सप्ताह पहले की बात करें तो केरल शीर्ष 10 राज्यों में भी नहीं शामिल था। इस सूची में महाराष्ट्र और कर्नाटक शीर्ष दो राज्य हैं। स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि मंत्रालय लगातार इन राज्यों के संपर्क में है।

ये भी पढ़ें...कंगना तो फंस गईं: जाना पड़ सकता है पुलिस थाने, किसानों पर लगाया था आरोप

इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च के डीजी बलराम भार्गव का कहना है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO) के मुताबिक दुनिया में दोबारा संक्रमण के दो दर्जन केस मिले हैं। हमारे यहां भी कुछ लोग दोबारा संक्रमित हुए हैं। उन्होंने बताया कि दोबारा संक्रमण का डेफिनेशन डब्ल्यूएचओ भी डिसाइड नहीं कर रहा।

उन्होंने कहा कि 100 दिन बाद वायरस दोबारा अपनी चपेट में ले ले रहा। भार्गव ने बताया कि जो लोग ठीक हो चुके हैं, करीब 4 महीने तक एंटीबॉडी रहती है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story