HDFC बैंक को लेकर बड़ी खबर, RBI ने लगाई बैंक के इन पदों की नियुक्ति पर रोक

देश की प्रमुख प्राइवेट बैंकों में से एक HDFC Bank को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। HDFC Bank को भारतीय रिजर्व बैंक ने झटका दिया है।

देश की प्रमुख प्राइवेट बैंकों में से एक HDFC Bank को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। HDFC Bank को भारतीय रिजर्व बैंक ने झटका दिया है। जिसके बाद बैंक थोड़ा मुश्किल में आ गया है। खबर बैंक के सीईओ और एमडी से जुड़ी हुई है। पूरा मामला बैंक के उत्तराधिकार से सम्बंधित है।

उत्तराधिकार से जुड़ा है मामला

ये भी पढ़ें-  कोविड- 19; कारगर साबित हो रही क्लस्टर  रणनीति, प्रधानों को सौंपी जिम्मेदारी

बिजनेस की बड़ी वेबसाइट मनी कंट्रोल के मुताबिक, HDFC बैंक के मौजूदा एमडी और सीईओ आदित्य पुरी के उत्तराधिकारी के तौर पर दो लोगों के नाम RBI को भेजे थे। जिस पर RBI को अपना फैसला लेना था। लेकिन RBI ने फिलहाल अपना फैसला टाल दिया है। एचडीएफसी बैंक की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि 7 अप्रैल को RBI की ओर से जवाब आया है। RBI ने बैंक को सलाह दी है कि इस साल के आखिरी तक नए MD और CEO के पद ग्रहण करने के बाद समीक्षा करें फिर हमारे पास भेजे।

ये भी पढ़ें- मास्क पर मचा बवाल: गांधी आश्रम, यूपी सरकार के तय रेट पर कपड़ा देने को तैयार नहीं

ज्ञात हो कि आदित्य पुरी अक्टूबर 2020 में रिटायर होंगे। पुरी HDFC बैंक के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी भी हैं। उनके उत्तराधिकारी की खोज बैंक वैश्विक स्तर पर कर रहा है। साल 1994 में एचडीएफसी बैंक के गठन के बाद से आदित्य पुरी प्रबंध निदेशक और सीईओ हैं। पुरी इस साल 70 वर्ष के हो जाएंगे।

इन दो नामों का हुआ था चयन

HDFC बैंक के बोर्ड ने पिछले साल नवंबर में एडिशनल डायरेक्टर और एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर के पड़ पर नियुक्ति के लिए दो नामों का चयन किया था। जिनमें शशिधर जगदीशन को एडिशनल डायरेक्टर और भावेश झावेरी को एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर के तौर पर नियुक्ति के लिए प्रस्ताव दिया था। भावेश झावेरी अभी आईटी और कैश मैनेजमेंट के ग्रुप हेड हैं। वहीं शशिधर जगदीशन को बैंकिंग सेक्टर का 29 साल का अनुभव है।

ये भी पढ़ें- मुकेश अंबानी बने सबसे अमीर भारतीय, फोर्ब्स की लिस्ट में इतना स्थान

वो मौजूदा समय में फाइनेंस, एच. आर., लीगल, एडमिनिस्ट्रेशन, इन्फास्ट्रक्चर के ग्रुप हेड हैं। बैंक द्वारा प्रस्तावित प्रस्ताव को मंजूरी के लिए RBI के पास भेजा गया था। लेकिन रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया ने अपना फैसला देने से अभी इनकार कर दिया। जिसके बाद HDFC बैंक द्वारा इन पदों पर नियुक्ति टल गई। बैंक ने कहा है कि शशिधर जगदीशन और भावेश झावेरी एनुअल जनरल मीटिंग की घोषणा तक बैंक के बोर्ड में एडिशनल डायरेक्टर के तौर पर बने रहेंगे।