×

LAC पर बनेंगी भारतीय सड़कें, हुआ बड़ा एलान, चीन की आपत्ति से फर्क नहीं पड़ा

चीन पहले ही एलएसी के पास भारत द्वारा सड़क निर्माण कराये जाने से नाराज है और यही वजह हैं कि निर्माण कार्य बाधित करने के लिए तरह तरह के दबाव भारत पर बनाने की कोशिश कर रहा है।

Shivani
Updated on: 6 July 2020 6:01 PM GMT
LAC पर बनेंगी भारतीय सड़कें, हुआ बड़ा एलान, चीन की आपत्ति से फर्क नहीं पड़ा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्लीः लद्दाख में चीन भारत विवाद की एक वजह LAC के पास भारतीय क्षेत्र में सड़क निर्माण करवाना है। जिसे लेकर चीन भारत से चिढ़ा हुआ है। इसी मामले में अब भारत के सीमा सड़क संगठन (BRO) चीन को दो टूक जवाब देते हुए कहा कि उन्हें चीन की आपत्तियों से कोई लेना देना नहीं।

सीमा सड़क संगठन का आपत्तियों से कोई लेना नहीं

LAC के पास भारत की सड़क निर्माण परियोजना पर चीन के एतराज को लेकर BRO के एक्जिक्यूटिव इंजीनियर बी. किशन ने कहा है-'सीमा सड़क संगठन का आपत्तियों से कोई लेना नहीं है। हम वही काम करते हैं जो हमें सौंपा जाता है।'

BRO ने किया लद्दाख के तीन पुलों का निर्माण

उन्होंने जानकारी दी कि चीन से विवाद के दौरान हाल ही में लद्दाख में जिन तीन पुलों के जरिये भारतीय सेना के टैंक LAC तक पहुंचे, उनका निर्माण BRO ने ही किया है। बी. किशन ने कहा, 'हमने NH-1 पर रिकॉर्ड समय में सड़क का निर्माण किया है। इस सड़क पर किसी भी तरह के भारी वाहन को ले जाया जा सकता है।

ये भी पढ़ेंः पाक-चीन ने मिल कर भारतीय सीमा पर रची साजिश, गुपचुप कर रहे ये काम

एलएसी के पास भारत द्वारा सड़क निर्माण से नाराज चीन

चीन पहले ही एलएसी के पास भारत द्वारा सड़क निर्माण कराये जाने से नाराज है और यही वजह हैं कि निर्माण कार्य बाधित करने के लिए तरह तरह के दबाव भारत पर बनाने की कोशिश कर रहा है। लेकिन भारत सरकार ने चीन से विवाद के बाद भी चीन सीमा से लगने वाले भारतीय क्षेत्रों में 32 सड़क परियोजनाओं का काम जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

सीमा पर भारतीय सड़क निर्णाम का चीन लगातार कर रहा विरोध

गौरतलब है कि लद्दाख में सड़क निर्माण को लेकर चीन पहले ही बौखलाया हुआ है। सीमा पर सैनिकों के बीच हुई झड़क के बाद कमांडर लेवल की बैठक में चीन ने ये मुद्दा उठाया भी था। चीन की ओर से भारत को सड़क निर्माण का काम रोकने के लिए कहा गया था, हालाँकि भारत ने इस बात से साफ़ इंकार कर दिया था। भारत का तर्क था कि वह अपने सीमा क्षेत्र में सड़क निर्माण का कार्य करवा रहा है और ऐसे में किसी अन्य देश को इससे परेशानी नहीं होनी चाहिए।

बता दें कि चीन भारत की सड़क निर्णान परियोजना के खिलाफ इस लिए हैं क्योंकी इसके बाद भारतीय सेना को सीमा तक आने जाने में आसानी हो जायेगी। ऐसे में दबाव बनाने के लिए चीन सेना आये दिन सीमा पर विवाद के लिए उकसाने का काम कर रही है। लेकिन भारत ने इस खींचतान के बीच सीएम और अन्य सभी बड़ी परियोजनाओं में तेजी लाने की तैयारी शुरू कर दी।

ये भी पढ़ेंः परमाणु हथियारों से लैस खतरनाक अमेरिकी फाइटर जेट ने घेरा, कांप गई चीनी सेना

इतना ही नहीं भारत सड़कों के अलावा बिजली, स्वास्थ्य, दूरसंचार और शिक्षा जैसे अन्य विकास परियोजनाओं को भी सीमा पर प्राथमिकता देने जा रहा है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Shivani

Shivani

Next Story