पाक-चीन ने मिल कर भारतीय सीमा पर रची साजिश, गुपचुप कर रहे ये काम

चीन ने पाकिस्तान के साथ मिल कर भारत की पश्चिमी सीमा के पास बड़ा कदम उठाया है। ख़ुफ़िया सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर के सामने सीमा के उस पार यानी पाकिस्तानी क्षेत्र में चीन ने अपने टेक्नीशियनों की मदद से सर्विलांस सिस्टम लगाया है।

नई दिल्ली: लद्दाख की गलवान घाटी पर भारत चीन सैनिक विवाद के बाद से तनाव जारी है। हालात तब और गंभीर हो गए जब चीन ने यहां अपनी सेना की तैनाती बढ़ा दी। हालाँकि भारत की रणनीति और कूटनीति के दबाव में चीनी सेना आज गलवान घाटी से पीछे हट गयी। लेकिन चीन इसके बाद भी सुधरता नजर नहीं आ रहा है। अब उसने भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान के साथ मिल कर नई साजिशें शुरू कर दी है।

चीन पाकिस्तान की भारतीय सीमाओं पर साजिश

दरअसल चीन ने पाकिस्तान के साथ मिल कर भारत की पश्चिमी सीमा के पास बड़ा कदम उठाया है। ख़ुफ़िया सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर के सामने सीमा के उस पार यानी पाकिस्तानी क्षेत्र में चीन ने अपने टेक्नीशियनों की मदद से सर्विलांस सिस्टम लगाया है।

LOC पर लगाए चीनी टेक्नीशियनों की मदद से सर्विलांस सिस्टम

इसके अलावा चीन ने पाकिस्तान की मिलीभगत से पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) के जियारत टॉप और फॉरवर्ड डिफेंस लोकेशन चलीरा में भी अत्याधुनिक सर्विलांस सिस्टम इंस्टॉल करवाए हैं।

ये भी पढ़ेंः चीन की खटिया खड़ी: मोदी की ललकार से भागी सेना, अब आई अकल ठिकाने

भारतीय सुरक्षाबलों की गतिविधियों निगरानी की साजिश

जानकारी के मुताबिक, ये सर्विलांस सिस्टम इंडियन सिक्योरिटी पर निगरानी रखेंगे। चीन और पाकिस्तान ने इस कदम के जरिये भारतीय सुरक्षा बलों की गतिविधियों पर नजर रखने के मकसद से ये बड़ी साजिश रची है। ऐसे में पाकिस्तान LOC पर भारतीय सेनाओं की हर हरकत की निगरानी कर सकेगा।

भारत पाक अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर भी सर्विलांस इक्विपमेंट

वहीं चीन की मदद से पाकिस्तान ने अंतर्राष्ट्रीय सीमा के उस पार भी कई ख़ास लोकेशन्स पर सर्विलांस इक्विपमेंट लगवाए हैं। इनमे जैलसलमेर, बीकानेर, बाड़मेर, श्रीगंगानगर शामिल हैं।

ये भी पढ़ेंः मोदी मंत्र से हारा चीन: भारत के सामने टेक दिए घुटने, इस तरह हुआ मजबूर

भुज स्थित इंटरनेशनल बॉर्डर के करीब पाकिस्तानी एयरपोर्ट और रनवे का निर्माण

बता दें कि सीमाओं के पास पाकिस्तान की ये गतिविधियां कोई नहीं बात नहीं है। गुजरात के भुज स्थित इंटरनेशनल बॉर्डर से करीब 50-60 किलोमीटर दूर पाकिस्तान एयरपोर्ट और रनवे बना रहा है। इनके निर्माण में चीनी टेक्नीशियन भी शामिल हैं। गुजरात सीमा के पास पाक एयरपोर्ट निर्माण के काम में पड़ोसी देश की आर्मी के 20 अधिकारी तैनात है, वहीं 300 से ज्यादा लेबर निर्माण काम में लगे हैं।

बॉर्डर पर भारतीय संचार ठप्प करने के लिए जैमर लगाने की तैयारी

भारत के खिलाफ पाकिस्तान को खड़ा और मजबूत करने के लिए चीन एड़ी चोटी का जोर लगा रहा है। पाकिस्तान ने एक स्विस कंपनी से 10 हाईटेक जैमर सिस्टम खरीदे है। पाकिस्तान इन जैमिंग सिस्टम को सीमा क्षेत्रों में स्थापित करने की योजना बना रहा है। ताकी जरूरत पड़ने पर सीमा पार यानि भारतीय क्षेत्र की संचार व्यवस्था को ठप्प कर सकें। इस हाइटेक जैमर सिस्टम को ख़रीदने में भी चीनी अधिकारियों ने पाक की मदद की।

ये भी पढ़ेंः चीन-पाकिस्तान आए साथ: भारत के लिए खतरे की घंटी, डर इन खतरनाक हथियारों से

चीनी कम्पनी से आती है पाकिस्तान के आतंकियों के लिए हाई एल्टीट्यूड ड्रेस

इतना ही नहीं चीन की एक कम्पनी पाकिस्तान को आतंकियों के लिए के हाई एल्टीट्यूड ड्रेस सप्लाई करती है। पाक इसे आतंकियों में बांटता है। इनके जरिए आतंकी बर्फीले क्षेत्रों में घुसपैठ के दौरान करते हैं।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App