भारत के लिए खतरा: खालिस्तानी आंदोलन को फिर से क्यों ज़िंदा करना चाहता है पाक?

पाकिस्तान भारत के खिलाफ शुरू से ही साजिशें रचने का काम करता चला आ रहा है। भारत ने समय-समय पर दुनिया के सामने इस बात के सबूत भी पेश किये हैं लेकिन पाकिस्तान है कि मानने को तैयार ही नहीं होता। बल्कि उल्टे भारत पर ही दोषारोपण करने लगता है।

Published by Aditya Mishra Published: September 10, 2020 | 7:17 pm
Modified: September 10, 2020 | 7:18 pm
Imran Khan and Khalistani Protesters

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान और खालिस्तान समर्थकों की फोटो(साभार-सोशल मीडिया)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान भारत के खिलाफ शुरू से ही साजिशें रचने का काम करता चला आ रहा है। भारत ने समय-समय पर दुनिया के सामने इस बात के सबूत भी पेश किये हैं लेकिन पाकिस्तान है कि मानने को तैयार ही नहीं होता। बल्कि उल्टे भारत पर ही दोषारोपण करने लगता है।

लेकिन इस बार पाकिस्तान का बचना मुश्किल है। पाकिस्तान, भारत के खिलाफ खालिस्तानी आतंकियों को मदद मुहैया करा रहा है। इस बात का खुलासा कनाडा के एक प्रमुख थिंक टैंक एमएल इंस्टीट्यूट ने अपनी रिपोर्ट में किया है।

बता दें कि सीनियर जर्नलिस्ट टेरी मिलेवक्सी ने हाल ही पाकिस्तान को लेकर अपनी एक रिपोर्ट पब्लिश की है। जिसका नाम है ‘खालिस्तान: ए प्रॉजेक्ट ऑफ पाकिस्तान’।

khalistan Supporters
खालिस्तानी समर्थकों की फोटो(साभार-सोशल मीडिया)

यह पढ़ें…Rapper Raftaar कोरोना पॉजिटिव, बोले- ये सिर्फ तकनीकी गड़बड़ी है

खालिस्तान आंदोलन कनाडा और भारत दोनों के लिए बड़ा खतरा

अपनी इस रिपोर्ट में टेरी ने लिखा है-खालिस्तान आंदोलन कनाडा और भारत दोनों की ही सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बन गया है। इस आंदोलन के बाद भी सच्चाई यह है कि कनाडा के सिख इस आंदोलन के जरिए अपने गृह राज्य पंजाब नहीं जा रहे हैं।

उन्होंने रिपोर्ट में यह भी लिखा है कि भले ही भारत में खालिस्तान को लेकर बहुत ज्यादा सपोर्ट नहीं मिल रहा है, लेकिन पाकिस्तान लगातार एक बार फिर से खालिस्तानी आंदोलन को जिंदा करना चाहता है।

यह भी पढ़ें: 9 सितंबर राशिफल: वृष राशि के जातक को मिलेगा आराम, जानें बाकी का हाल

सिख अलगाववादियों से पाक ने की डील

इसके लिए पाकिस्तान के जिहादी समूहों ने सिख अलगाववादियों से डील किया है और वे मिलकर भारत के खिलाफ साजिशों को अंजाम देने में जुटे हैं।

भारत और कनाडा जैसे मुल्कों के पाकिस्तान का यह कदम बड़ा राष्ट्रीय खतरा बन गया है। पंजाब में खालिस्तान के कुछ ही समर्थक बचे हैं, इसलिए कनाडा में खालिस्तान के समर्थकों को पाकिस्तानी मदद बढ़ गई है। ये खालिस्तानी अब न केवल भारत बल्कि कनाडा के राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बन गए हैं।

China President XI Jinping
चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की फोटो(साभार-सोशल मीडिया)

पाकिस्तान की ऐसे मदद कर रहा चीन

पाकिस्तान, चीन की मदद से VOIP यानी Voice Over Internet Protocol के जरिये खुफिया मॉनिटरिंग सिस्टम तैयार करना चाहता है ताकि भारत पर नजर रखी जा सके।

चीन अपने VT-4 टैंक की नई तकनीक पाकिस्तान को दे रहा है। VT-4 मेन बैटल टैंक है, जिसका इस्तेमाल चीन की सेना करती है। इसके अलावा चीन, पाकिस्तान के लिए 120 अल खालिद-1 टैंक बनाने में भी मदद कर रहा है।

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक चीन, पाकिस्तान के लिए सिर्फ टैंक अपग्रेडेशन में ही मदद नहीं कर रहा बल्कि आर्टिलरी को बेहतर बनाने के लिए भी मदद कर रहा है।

पाकिस्तान चीन की SH-15 ट्रैक माउंटेड गन को खरीदने की फिराक में है जिनका इस्तेमाल पाकिस्तानी सेना, पीओके में कई जगह भारत के खिलाफ कर सकती है । सूत्रों के मुताबिक चीन, पाकिस्तान को A-100 मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर की एक खेप दे चुका है।

यह भी पढ़ें: बड़ी खबर: इस दिन से खूलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्कूल, गाइडलाइन हुई जारी

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें – Newstrack App

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App