नागरिकता बिल पर असम में उबाल: इंटरनेट बंद, सेना के 5000 जवान तैनात

असम में नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर, पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे ने बुधवार को कई ट्रेनों को रद्द कर दिया और कुछ को रिशेड्यूल किया गया जो राज्य से जाती हैं।

गुवाहाटी: जहां एक तरफ संसद में नागरिकता संशोधन बिल को लेकर हंगामा मचा हुआ है, वहीं दूसरी तरफ इस विधेयक के खिलाफ असम समेत कई पुर्वोत्तर राज्यों में हिंसक विरोध प्रदर्शन जारी है। जानकारी के अनुसार सुरक्षा व्यवस्था के चलते कश्मीर से बुलाए सेना के जवान भी बुलाए गए हैं।

ये भी पढ़ें— राज्यसभा में नागरिकता बिल पर चर्चा, जानिए किसने क्या कहा

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को एयरपोर्ट पर रोक दिया गया

प्रदर्शन के बीच असम के 10 जिलों में बुधवार शाम सात बजे से इंटरनेट और फोन सेवा अगले 24 घंटे के लिए रोकने के आदेश जारी किए गए हैं| वहीं खबर मिली है कि असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को एयरपोर्ट पर रोक दिया गया। गुवाहाटी में लगातार जारी प्रदर्शनों को देखते हुए सोनोवाल को कई घंटे एयरपोर्ट पर ही गुजारने पड़े। पूरे राज्य में छात्रों का समूह इस बिल का विरोध प्रदर्शन कर रहा है। बता दें कि स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए सेना को भी स्टैंड बाई पर रखा गया है, इसके अलावा अर्धसैनिक बलों के 5000 जवानों को भी भेजा गया है।

यहां के राज्य सचिवालय के निकट छात्रों के एक बड़े समूह और पुलिस के बीच बुधवार को झड़प हुई। इन सब घटनाओं के बाद असम और त्रिपुरा के कई इलाकों में सेना तैनात कर दी गई है। छात्रों ने जीएस रोड पर बैरियर को तोड़ दिया जिसके बाद पुलिस ने लाठी चार्ज किया। छात्रों पर आंसू गैस के गोले भी दागे गए। छात्रों ने जिसे वापस पुलिसकर्मियों पर उठाकर फेंका।

जानकारी के अनुसार कई छात्र लाठीचार्ज में घायल हो गए। छात्रों का कहना है कि जब तक कैब वापस नहीं लिया जाता है तब तक हम किसी दबाव में नहीं आएंगे। गुवाहाटी के अलावा डिब्रूगढ़ जिले में प्रदर्शनकारियों की झड़प पुलिस से हुई और पत्थरबाजी में एक पत्रकार घायल हो गया।

ये भी पढ़ें—प्रियंका गांधी का असली नाम: नहीं पता होगा आपको, जानें यहां…

असम में नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर, पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे ने बुधवार को कई ट्रेनों को रद्द कर दिया और कुछ को रिशेड्यूल किया गया जो राज्य से जाती हैं।

इन ट्रेनों पर पड़ा असर

एनएफ रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुभान चंदा ने एक बयान में कहा कि अवध असम एक्सप्रेस को न्यू तिनसुकिया से चलाने का निर्णय लिया गया है। यह डिब्रूगढ़ और न्यू तिनसुकिया के बीच रद्द रहेगी। वहीं लीडो गुवाहाटी इंटरसिटी एक्सप्रेस, डिब्रूगढ़ फरकाटिंग गुवाहाटी इंटरसिटी एक्सप्रेस, नाहरलागुन तिनसुकिया इंटरसिटी एक्सप्रेस, डेकारगांव डिब्रूगढ़ इंटरसिटी एक्सप्रेस पूरी तरह से रद्द है।