Top

राहुल का मोदी को चैलेंज- हिम्मत है तो करो, किसान-रोजगार की बात

राहुल गांधी ने पिछले दिनों मत्स्य मंत्रालय का गठन किए जाने का मुद्दा उछाला है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध रहे हैं। हर महीने के अंतिम रविवार को होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम मन की बात को लेकर राहुल ने इस बार हमला बोला है।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 28 Feb 2021 6:53 AM GMT

राहुल का मोदी को चैलेंज- हिम्मत है तो करो, किसान-रोजगार की बात
X
पिछले दिनों रोजगार के मुद्दे पर देश में कई जगह युवाओं ने प्रदर्शन किए हैं। प्रयागराज में हजारों युवाओं ने सडक़ पर आकर रोजगार की मांग की है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकप्रिय कार्यक्रम मन की बात पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पीएम को ललकारा है। उन्होंने कहा कि अगर हिम्मत है तो किसान और रोजगार की बात करो। राहुल गांधी ने पिछले दिनों मत्स्य मंत्रालय का गठन किए जाने का मुद्दा उछाला है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध रहे हैं। हर महीने के अंतिम रविवार को होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम मन की बात को लेकर राहुल ने इस बार हमला बोला है।

ये भी पढ़ें...मन की बात Live: किसानों के विरोध और कोरोना संकट के बीच सुनें पीएम मोदी का संबोधन

'रोजगार दो' हैशटैग

उन्होंने रविवार की सुबह ट्वीट कर कहा कि अगर हिम्मत है तो किसान की बात करो, रोजगार की बात करो। दरअसल पिछले चार महीने से आंदोलन कर रहे किसानों के बारे में मन की बात से बड़ी घोषणा होने की उम्मीद लोग कर रहे थे। पिछले महीनों के दौरान माना जा रहा था कि प्रधानमंत्री मन की बात में आंदोलित किसानों को समझाने की कोशिश करेंगे लेकिन इस बारे में कोई बात नहीं हुई।

पिछले दिनों रोजगार के मुद्दे पर देश में कई जगह युवाओं ने प्रदर्शन किए हैं। प्रयागराज में हजारों युवाओं ने सडक़ पर आकर रोजगार की मांग की है। सोशल मीडिया पर रोजगार दो हैशटैग कई दिनों से ट्रेंड भी कर रहा है।

युवाओं की इसी भावना को भांपकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मुद्दा उछाला है। उन्होंने बड़ी चतुराई से प्रधानमंत्री को मन की बात में इन मुद्दों पर बोलने के लिए उकसाने की कोशिश की है। अगर मोदी इस मुद्दे पर मन की बात में कुछ बोलते हैं तो इसका फायदा कांग्रेस और राहुल को भी मिलने की संभावना बन जाएगी।

Narendra Modi फोटो-सोशल मीडिया

दूसरी ओर मन की बात में अगर वह इन सवालों को दरकिनार करते हैं तो राहुल को यह कहने का मौका मिलेगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असल मुद्दों पर बात करने से कतराते हैं।

ये भी पढ़ें...मिशन पंचायत चुनाव: बनारस से बिगुल फूकेंगी बीजेपी, नड्डा देंगे जीत का मंत्र

मत्स्य मंत्रालय पर भी केंद्र सरकार को घेरा

rahul gandhi फोटो-सोशल मीडिया

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मत्स्य मंत्रालय के गठन को लेकर भी भाजपा को घेरने की कोशिश की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने कई भाषणों में इस बात का जिक्र कर चुके हैं कि उनकी सरकार में मत्स्य निर्यात बढ़ा है। मछुआरों को रोजगार के मौके मिले हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन ने भी बजट भाषण के दौरान मत्स्य पालन क्षेत्र में सुधार योजनाओं का जिक्र किया है।

भाजपा इस मुद्दे पर देश के मछुआरा समुदाय को अपने साथ जोडऩे की कवायद कर रही है लेकिन राहुल गांधी ने मत्स्य मंत्रालय के गठन का सवाल उठाकर भाजपा के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। राहुल ने पिछले दिनों यह कहा कि अगर मत्स्य मंत्रालय का गठन हो जाए तो इस समुदाय का तेजी से विकास होगा लेकिन यह सरकार ऐसा नहीं कर रही है।

उनके इस बयान पर भाजपा नेताओं ने तीखी प्रतिक्रिया दी लेकिन राहुल इस बहाने से भाजपा को संदेह के दायरे में लाने में कामयाब होते दिखे हैं। अब किसान और रोजगार के सवाल पर भी उन्होंने इसी तरह का हमला बोला है।

इसका भविष्य में क्या असर होगा यह तय नहीं है लेकिन राहुल ने किसान और रोजगार का सवाल उठाकर प्रधानमंत्री के मन की बात कार्यक्रम को अप्रासंगिक साबित करने की पूरी कोशिश की है।

ये भी पढ़ें...बुआ-बेटी की जंगः बंगाल में फैसला मतों से, ममता के नारे को बेदम करने में जुटी भाजपा

रिपोर्ट- अखिलेश तिवारी

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Desk Editor

Next Story