×

भट्टा -पारसौल और नड्डा के बहाने राहुल ने याद दिलाया भाजपा का किसान प्रेम

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को केंद्र सरकार के कृषि कानूनों की खामियों पर पुस्तिका जारी की तो भाजपा के कृषि और किसान प्रेम की परत-परत उघेडक़र सामने रख दी।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 19 Jan 2021 3:36 PM GMT

भट्टा -पारसौल और नड्डा के बहाने राहुल ने याद दिलाया भाजपा का किसान प्रेम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अखिलेश तिवारी

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को भाजपा के किसान प्रेम को कटघरे में खड़ा कर दिया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का सवाल उठने पर राहुल ने कहा कि जब भट्टा -पारसौल में किसान लड़ाई लड़ रहे थे तो नड्डा जी कहां थे। भाजपा ने किसानों की लड़ाई क्यों नहीं लड़ी। भूमि अधिग्रहण के विरोध में वहां मैं खड़ा हुआ तो भाजपा के नेता क्यों नहीं पहुंचे।

राहुल गांधी ने कृषि कानूनों की खामियों पर पुस्तिका जारी की

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को केंद्र सरकार के कृषि कानूनों की खामियों पर पुस्तिका जारी की तो भाजपा के कृषि और किसान प्रेम की परत-परत उघेडक़र सामने रख दी। केंद्र सरकार के कानून को किसानों के खिलाफ बताते हुए उन्होंने याद दिलाया कि आजादी के पहले जिस तरह से देश के किसानों का शोषण होता था। वह जमींदारों के गुलाम हुआ करते थे वही स्थितियां वापस लाने की कोशिश की जा रही है। नए कानून के बाद किसान पहले की तरह चंद पूंजीपतियों का खेतिहर मजदूर बनकर रह जाएगा।

ये भी पढ़ें- कौन हैं जेपी नड्डा! राहुल गांधी का तगड़ा वार, बोले वे मुझे छू नहीं सकते

नड्डा पर सवाल उठाकर भाजपा को घेरा

भाजपा के किसान प्रेम को झूठा और बनावटी करार देने के क्रम में उन्होंने लोगों को याद दिलाया कि भट्टा - पारसौल में जब किसान अपनी जमीन बचाने की लड़ाई लड़ रहे थे तो वहां उनके साथ राहुल गांधी खड़े थे। जेपी नड्डा और उनकी पार्टी भाजपा के लोग पहुंचे भी नहीं।

rahul gandhi

उन्होंने इस घटना के साथ मौजूदा किसान आंदोलन का कनेक्शन भी जोड़ा और कहा कि भाजपा के वही लोग हैं। इन्हें आज भी किसानों के सुख-दुख से कोई वास्ता नहीं है। आक्रामक दिखे राहुल ने सुप्रीम कोर्ट को भी नहीं बक्शा। जब उनसे किसान आंदोलन पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश की बाबत पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट पर मैं कोई टिप्पणी नहीं करूंगा लेकिन सुप्रीम कोर्ट जो कर रहा है उसे पूरा देश देख रहा है।

ये भी पढ़ेंः अब सासंदो को नहीं मिलेगा खाना, 29 जनवरी से शुरू हो रहा बजट सत्र

राहुल की आक्रामकता केवल यहीं तक नहीं दिखी। उन्होंने भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर भी कहा कि वह उनसे नहीं डरते हैं। वह लोग उन्हें गोली मार सकते हैं लेकिन छू नहीं सकते। किसान आंदोलन में देशवासियों से शामिल होने की अपील करने के साथ ही राहुल ने यह भी कहा कि यह मेरा देश है। इसके लिए लडूंगा। कोई साथ नहीं आएगा तो भी लडूंगा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story