Top

सिर्फ यही बचाएगा कोरोना से, तो रहिये भीड़ से दूर और करिए इसका पालन

कोरोना से फैली महामारी को रोकने के लिए भारत सहित कई देशों ने लॉकडाउन घोषित कर रखा है। इसका उद्देश्य सोशल डिस्टेंसिंग को ही सफल करना ताकि बड़ी आबादी संक्रामक रोग से मुक्त रहे। 

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 5 April 2020 6:59 AM GMT

सिर्फ यही बचाएगा कोरोना से, तो रहिये भीड़ से दूर और करिए इसका पालन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कोरोना का जो यह भयंकर रूप दिखाई दे रहा है, वो नहीं दिखाई देता जब हम पहले ही सचेत हो गए होते, पिछले दिनों में कई ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जिसने यह साबित किया है सोशल डिस्टेंसिंग कितना जरूरी है। कोरोना से फैली महामारी को रोकने के लिए भारत सहित कई देशों ने लॉकडाउन घोषित कर रखा है। इसका उद्देश्य सोशल डिस्टेंसिंग को ही सफल करना ताकि बड़ी आबादी संक्रामक रोग से मुक्त रहे।

हुआनान सीफूड होलसेल मार्केट से फैला कोरोना

गौरतलब है कि चीन का वुहान शहर की हुआनान सीफूड होलसेल मार्केट से ही कोरोना फैलना शुरू हुआ था। पहले दो तिहाई मामले यहीं से सामने आए। इस बाजार गए करीब 41 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में मार्केट को बंद कर दिया गया था।

डायमंड प्रिंसेस क्रूज शिप में 700 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए

जापान में खड़ा किए गए डायमंड प्रिंसेस क्रूज शिप में करीब 3 हजार यात्री और चालक दल के सदस्य सवार थे। इनमें से करीब 700 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। चीन के बाद सबसे ज्यादा संक्रमित लोग इसी क्रूज पर सवार थे। यह वायरस तेजी से फैलता अगर शिप के केबिन को आइसोलेशन की तरह इस्तेमाल न किया जाता।

ये भी देखें: दरवाजे पर खड़े साहब इंतजार कर रहे कोरोना का, आप तो नहीं है इनमें शामिल

फ्रांस में 18 फरवरी को एक क्रिश्चियन ओपन डोर मेगाचर्च इवेंट में दुनिया के हजारों लोगों ने भाग लिया। एक कोरोना पॉजिटिव शख्स ने इसमें भाग लिया। इसके बाद करीब 2,500 पॉजिटिव मामलों में इस चर्च के कार्यक्रम का लिंक निकलकर सामने आया।

खेला गया एक मैच इटली के लिए 'जैविक बम' साबित हुआ

इटली के एक डॉक्टर का ऐसा दावा है कि फरवरी में मिलान में चैम्पियंस लीग के तहत खेला गया एक मैच इटली के लिए 'जैविक बम' साबित हुआ है जिसे देखने के लिए विभिन्न जगहों से 40 हजार दर्शक जुटे थे। 19 फरवरी को अटलांटा और वेलेसिया बीच मिलान शहर में चैम्पियंस ट्रॉफी के तहत मैच खेला गया। मैच के दो दिन बाद इटली में मौत का पहला मामला सामने आया और यह देश आगे कोरोना के सबसे अधिक प्रभावित देशों में शामिल हो गया

ये भी देखें:कोरोना वायरस पॉजिटिव जमाती खाने के लिए मांग रहे ये सब, प्रशासन परेशान

ऑस्ट्रिया में एक स्की रेजॉर्ट 600 से ज्यादा लोगों में संक्रमण का कारण बना। अधिकारियों का कहना है कि संख्या इसकी दोगुनी हो सकती है। जर्मनी, नॉर्वे और आइसलैंड के हजारों लोगों ने इसमें भाग लिया था। इससे उनमें संक्रमण फैला।

SK Gautam

SK Gautam

Next Story