बहुत महंगी है कोरोना की जांच, सिर्फ टेस्ट के देने होंगे इतने पैसे

देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहें हैं। इसी को देखते हुए मान्यता प्राप्त निजी प्रयोगशालाओं (लैब) को मंजूरी दिए जाने की तैयारी है।

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहें हैं। इसी को देखते हुए मान्यता प्राप्त निजी प्रयोगशालाओं (लैब) को मंजूरी दिए जाने की तैयारी है। इन लैब्स को प्रत्येक कोविड-19 जांच की कीमत 4,500 रुपये से 5,000 रुपये के बीच रखने का निर्देश दिए जाने की संभावना है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 जांच शुरू करने का इरादा रखने वाली निजी क्षेत्र की प्रयोगशालाओं के लिए मंगलवार को दिशानिर्देश जारी किए थे, जबकि ICMR ने उनसे ये टेस्ट फ्री रखने की अपील की थी।

ये भी पढ़ें:जानें क्या है सिटी लॉकडाउन: आखिर कोरोना के डर से क्यों किया जा रहा ऐसा

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के एक अधिकारी ने कहा

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के एक अधिकारी ने कहा, ‘ऐसा लगता है कि कोई भी इसे मुफ्त में नहीं करना चाहता और यही कारण है कि निजी लैब को कोविड-19 के लिये हर जांच की कीमत 4,500 से 5,000 रुपये के बीच रखने को कहा जाएगा।’ जानकारी के मुताबिक करीब 51 निजी प्रयोगशालाओं ने सरकार से संपर्क कर उन्हें इस श्वसन रोग के लिए जांच की इजाजत देने का अनुरोध किया है।

ये भी पढ़ें:Live: जनता कर्फ्यू से पहले देश में ऐसा नजारा, मरीजों का आंकड़ा हुआ 255

फिलहाल इस वायरस से देश में अब तक 236 लोग संक्रमित हैं। खास बात तो ये है कि ICMR ने इस वायरस की जांच के लिए अपनी 72 प्रयोगशालाओं को उपकरणों से लैस किया है। इसके अलावा CSIR और DRDO जैसे संगठनों की 49 प्रयोगशालाएं भी इस हफ्ते के अंत तक जांच के लिए सुसज्जित की जाएंगी। ICMR, NCR और भुवनेश्वर में भी दो जांच केंद्र स्थापित कर रही है। ये सेंटर रोजाना 1400 सैम्पल्स की जांच कर सकते हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App