कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने पर तुरंत अलर्ट करेगा ये ऐप, जानें खासियत

आरोग्य सेतु यूजर को तब अलर्ट करता है जब वह कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के संपर्क में आता है। यह ऐप यूजर के फोन का ब्लूटूथ, लोकेशन और मोबाइल नंबर का इस्तेमाल कर यह ट्रैक करता है कि वह किसी कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आया है….

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के खिलाफ पूरी दुनिया में जंग जारी है। भारत में भी कोरोना केप्रसार को रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की गई है। देशभर में केंद्र और राज्य सरकार भी कोरोना से लड़ाई के लिए हरसंभव प्रयास कर रही हैं। वहीँ कोरोना वायरस को ट्रैक करने के लिए भी अलग-अलग ऐप बनाये जा रहे हैं। अभी हाल ही में केंद्र सरकार ने ‘कोरोना कवच’ नाम से एक ऐप लॉन्च किया था। इस ऐप को लेकर यह दावा किया जा रहा है कि यह ऐप कोरोना से बचाने में मदद करता है। इसी कड़ी में बुधवार को सरकार द्वारा एक और ऐप ‘Aarogya Setu’ लॉन्च किया गया। ये ऐप भी कोरोना कवच की तरह ही कोरोना ट्रैकर ऐप है।

ये भी पढ़ें: Sunny Leone फैंस को देने जा रही है treat जानें कब …

संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने पर तुरंत अलर्ट करता है

बता दें कि आरोग्य सेतु यूजर को तब अलर्ट करता है जब वह कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के संपर्क में आता है। ये ऐप ऐंड्रॉयड और आईफोन के लिए उपलब्ध है। यह ऐप यूजर के फोन का ब्लूटूथ, लोकेशन और मोबाइल नंबर का इस्तेमाल कर यह ट्रैक करता है कि वह किसी कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आया है।

हेल्प सेंटर और सेल्फ असेसमेंट टेस्ट जैसे ऑप्शन मौजूद

आरोग्य सेतु ऐप में कोरोना के हेल्प सेंटर और सेल्फ असेसमेंट टेस्ट जैसे ऑप्शन मौजूद हैं जिनसे आप यह पता लगा सकते हैं कि कहीं आप भी जाने-अनजाने कोविड-19 के संपर्क में तो नहीं है।

इस ऐप डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले या ऐप स्टोर पर ‘AarogyaSetu’ टाइप करें। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि AarogyaSetu के बीच में स्पेस ना रहे। आरोग्य सेतु ऐप ट्रेसिंग और यह पता करने के लिए कि आप सेफ हैं या नहीं, इसके लिए मोबाइल नंबर, ब्लूटूथ और लोकेशन डेटा का इस्तेमाल करता है।

लोकेशन डिटेल्स के आधार पर बनता है ग्राफ

ये ऐप एक सोशल ग्राफ का इस्तेमाल करता है जिससे लो और हाई रिस्क की कैटिगरी का पता चलता है। यह ग्राफ लोकेशन डिटेल्स के आधार पर बनता है। जब भी आप लो या हाई-रिस्क कैटिगरी में आएंगे तो ये ऐप आपको अलर्ट करेगा। हाई-रिस्क कैटिगरी में आने पर ऐप तुरंत आपको टेस्ट सेंटर जाने के लिए नोटिफाई करेगा।

ये भी पढ़ें: पुलिस के खिलाफ भ्रामक विडियो किया पोस्ट, भेजा गया जेल

फीचर्स-

ऐप सबसे बड़ी खास बात ये है कि इस ऐप में राज्यवार कोविड-19 हेल्प सेंटर के फोन नंबर्स की लिस्ट मौजूद है। साथ ही इसमें सेल्फ असेसमेंट की सुविधा दी गयी है। इस फीचर के जरिए आप यह जांच कर सकते हैं कि आपको कोरोना वायरस का खतरा है या नही। इसके साथ ही अगर आपमें कोविड-19 से जुड़े कोई लक्षण दिखते हैं तो यह ऐप सेल्फ-आइसोलेशन से जुड़े दिशा-निर्देश देता है। यह ऐप 11 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है। इनमें अंग्रेजी और हिंदी भी शामिल हैं।

आरोग्य सेतु ऐप इस्तेमाल करने का तरीका

आरोग्य सेतु ऐप को इस्तेमाल करने के लिए फोन नंबर रजिस्टर करें। फोन नंबर डालने पर एक ओटीपी आएगा, जिसे एंटर करने पर ऐप में रजिस्ट्रेशन हो जाता है।

इसके बाद ऐप आपसे ब्लूटूथ और जीपीएस का ऐक्सिस मांगता है

ऐप खोलने पर पर्सनल डीटेल्स पूछी जाती हैं, जिनमें जेंडर, नाम, उम्र, पेशा और पिछले 30 दिनों की ट्रैवल हिस्ट्री के बारे में पूछा जाता है। आप चाहें तो इस विकल्प को स्किप भी कर सकते हैं।

इसके बाद आप ऐप की भाषा भी चुन सकते हैं

अगर आप चाहें तो जरूरत और संकट के इस वक्त में खुद को वॉलिंटियर के तौर पर रजिस्टर कर सकते हैं

ये भी पढ़ें: पीएम की अपील पर लालू के लाल का गजब रिएक्शन, जानिए क्या जलाने की दी सलाह

ये भी पढ़ें: यहां 1 महीने Lockdown: कोरोना के चलते लिया गया बड़ा फैसला, दिये सख्त आदेश