दिल्ली में कोरोना से मरने और ठीक होने वाले लोगों की दर क्या है? यहां जानें

भारत में कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। महाराष्ट्र, यूपी और नई दिल्ली में कोरोना के मरीज तेजी के साथ बढ़ रहे हैं। इस बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का दावा है कि दिल्ली सरकार कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए तैयारी पूरी कर चुकी है।

नई दिल्ली: भारत में कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। महाराष्ट्र, यूपी और नई दिल्ली में कोरोना के मरीज तेजी के साथ बढ़ रहे हैं। इस बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का दावा है कि दिल्ली सरकार कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए तैयारी पूरी कर चुकी है। करीब ढाई हजार बेड कोविड -19 के पेशेंट्स रिजर्व किये गये हैं।

बात करें गवर्नमेंट हॉस्पिटल की तो यहां पर 3829 बेड हैं, जिनमें से 3164 बेड में ऑक्सीजन की फैसीलिटीज अवेलेबल है। कोरोना के खतरे को देखते हुए प्राइवेट अस्पताल में बेडस की संख्या 2000 हो गई है।

कोरोना की वैक्सीन के लिए भारत ने लगाया जोर, कर ली है ये तैयारी पूरी

कोरोना से लड़ने के लिए सरकारी और निजी अस्पतालों ने कसी कमर

प्राइवेट अस्पताल में 72 वेंटिलेटर हैं, जिनमें से 15 ही अभी उपयोग में लाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कहा कि निजी अस्पताल में 677 बेड हैं, उनमें 509 में कोविड -19 के पेशेंट हैं, इसलिए मंगलवार को सरकार ने आदेश जारी कर 117 अस्पतालों को 20 प्रतिशत बेड रिज़र्व करने को बोला गया है।

अगर दिल्ली सरकार के हेल्थ बुलेटिन पर ध्यान दें तो, पिछले 24 घंटे में एक भी जान कोरोना की वजह से नहीं गई है लेकिन डेथ समरी के आधार पर मौत के 15 केस रजिस्टर्ड हुए हैं। दिल्ली में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 7006 है।

स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि पिछले 24 घंटों में कोई मौत नहीं हुई, लेकिन अस्पतालों द्वारा भेजी गई डेथ समरी के आधार पर डेथ ऑडिट कमेटी ने समीक्षा की तो मौत का आंकड़ा 261 से बढ़कर 276 हो गया। अभी दिल्ली का रिकवरी रेट 48.18 फीसदी और मृत्यु दर 1.92 फीसदी है।

दिल्ली में कोरोना के केस में वृद्धि हुई है। मरीजों की संख्या अब 14053 हो गई हैं। पिछले 24 घंटों में 635 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 231 मरीज ठीक हुए हैं।

क्या करे लाचार किसान: कोरोना और आंधी की दोहरी मार, इस फसल हुआ बंटाधार

भारत में कोरोना वायरस

कोरोना के 1 लाख 31 हजार के पार कंफर्म केस आ चुके हैं। एक दिन में 6,767 नए केस सामने आए हैं. कोविड-19 से मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,867 हो गई है। देश में कोरोना के 73560 एक्टिव केस हैं, जबकि कोविड-19 संक्रमण से ठीक हो चुके मरीजों की संख्या 54,441 है।

कैबिनेट मंत्री का टेस्ट कोरोना पॉजिटिव

महाराष्ट्र के एक और कैबिनेट मंत्री का टेस्ट कोरोना पॉजिटिव आया है। बताया जा रहा है कि मंत्री कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं में आते हैं। वो 5 दिन पहले मुंबई से नादेड़ गए थे। फिलहाल उन्हें इलाज के लिए नादेड़ स्थित एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इससे पहले कैबिनेट मंत्री जितेंद्र आव्हाड कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

बंगाल- आंध्रा छोड़ पूरे देश में विमान सेवा शुरू

लॉकडाउन के चौथे चरण में 25 मई से घरेलू उड़ान सेवा को भी फिर से शुरू कर दिया गया, लेकिन अभी भी आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में हवाई सेवा की शुरुआत नहीं होने वाली है।

ये भी पढ़ेंः रेलवे का नया प्लान: अब इतने यात्रियों को ही मिलेगी ट्रेन में सफर की अनुमति

कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, बिहार, पंजाब, असम, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, गोवा और जम्मू-कश्मीर उन कुछ राज्यों में से हैं, जिन्होंने उनके राज्य के हवाई अड्डों पर उतरने वाले यात्रियों के लिए अलग-अलग पृथक-वास के नियम तय किए हैं।

कुछ राज्यों ने जहां यात्रियों को अनिवार्य संस्थागत पृथक-वास केन्द्रों में रखने का फैसला लिया है, वहीं कई अन्य ने उन्हें घर और पृथक-वास केन्द्रों में रखने की बात कही है।