कोरोना को मात देगा ये इम्यूनिटी बूस्टर! ऐसे करें इस्तेमाल, आपको मिलेगी ताकत

कोरोना संकट के बीच मानसून बैक्टीरिया का भी खतरा बढ़ गया है। कोरोना वायरस के माहौल में इस समय आपको अपने इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने की जरूरत है।

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच मानसून बैक्टीरिया का भी खतरा बढ़ गया है। कोरोना वायरस के माहौल में इस समय आपको अपने इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने की जरूरत है। इसलिए हम आपको ऐसे कुछ टिप्स बता रहे हैं जो जो मानसून के मौसम और कोरोना महामारी के दौरान इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करने में मददगार साबित होगा।

घर पर बनाएं काढ़ा

घर पर बनाए जाने वाला काढ़ा ऐसे समय में बहुत फायदेमंद साबित होगा। जड़ी-बूटियों और मसालों से बनाया गया आयुर्वेदिक काढ़ा इम्युनिटी बढ़ाने में काफी मदद करता है। यह काढ़ा कोरोना मरीजों के लिए भी मददगार है। इस काढ़े का दिन में दो बार इस्तेमाल किया जाता है।

इस खास काढ़े में काली इलायची, हल्दी, लौंग, काली मिर्च, दालचीनी, अदरक और शहद या गुड़ मिला सकते हैं। इन सभी को प्रभावी इम्युनिटी बूस्टर के रूप में जाने जाते हैं। इसके साथ ही यह एंटी-इनफ्लेमेटरी भी हैं।

यह भी पढ़ें…सुप्रीम कोर्ट पर टिप्पणी कर बुरे फंसे वकील प्रशांत भूषण, अवमानना की कार्यवाही शुरू

घर पर बनाया कफ लॉजिन्ज

गले की खुजली की समस्या से बचने के लिए घर पर ही औषधीय टेबलेट बना सकते हैं। इसमें सबसे आसान व्यंजनों में से कुछ लौंग, नींबू का रस, अदरक और आंवला का इस्तेमाल होता है। बर्नर बंद करने के बाद इन्हें और शहद या चीनी के साथ उबालें। इसके बाद फिर एक पैन में लिक्विड की तेजी से बूंदे डालिए जिससे गोलियां बनाई जा सकें।

यह भी पढ़ें…गूगल मैप्स देगा कोरोना टेस्टिंग सेंटर की जानकारी, ऐसे करें सर्च

घर पर बनी खिचड़ी

न्यूट्रिशिनिस्ट के मुताबिक, मानसून के दौरान, किसी भी इंफेक्शन से बचने के लिए घर का ताजा पकाया खाना सबसे अच्छा होता है। जौ, चावल, या मूंग की दाल से बनी हल्की और ताजी खिचड़ी खाना चाहिए। इसके साथ ही हर भोजन से पहले अदरक का एक छोटा टुकड़ा सेंधा नमक के साथ लेना बहुत जल्दी और प्रभावी तरीके से बिना किसी प्रयास के आपकी इम्युनिटी को बढ़ाता है।

यह भी पढ़ें…इस बार भक्त नहीं कर पाएंगे बाबा बर्फानी के दर्शन, यात्रा हो सकती है कैंसिल

नींद और व्यायाम भी है जरूरी

इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए नींद और व्यायाम भी मंत्र है। आपको एक दिन में 7-8 घंटे से सोना चाहिए, क्योंकि अच्छी नींद एक थैरेपी है और शरीर को दिन भर की थकावट को दूर करने में मदद मिलती है। तनाव को दूर रखने के लिए व्यायाम भी करना चाहिए।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App