सोना से भी महंगा गोमूत्र और गोबर, जानिए कैसे बचा सकता है कोरोना से आपको

भारत में भी अब तक कोरोना के मामलों की संख्या बढ़कर 148 हो गई। इसके साथ ही तमाम राज्यों ने इसे महामारी घोषित कर दिया है। इन सबके बीच कोरोना वायरस का इलाज लोगों के बीच चर्चा का विषय है। एक रिपोर्ट के अनुसार करोना वायरस असर बढ़ने के साथ-साथ देश में गोमूत्र और गाय के गोबर का दाम बढ़ गए है।

नई दिल्ली: दुनिया भर में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है। देश में भी इसके मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। ईरान और इटली में स्थिति अब और ज्यादा गंभीर हो गई है। वहीं भारत में भी अब तक कोरोना के मामलों की संख्या बढ़कर 148 हो गई। इसके साथ ही तमाम राज्यों ने इसे महामारी घोषित कर दिया है। इन सबके बीच कोरोना वायरस का इलाज लोगों के बीच चर्चा का विषय है। एक रिपोर्ट के अनुसार करोना वायरस असर बढ़ने के साथ-साथ देश में गोमूत्र और गाय के गोबर का दाम बढ़ गए है।

ये भी पढ़ें: बॉलीवुड में भी कोरोना का प्रकोप: अमिताभ बच्चन समेत ये स्टार्स हुए घर में कैद

कोरोना के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के महंगा बिक रहा गोमूत्र और गोबर-

भारत में कोरोना के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करने के लिए गोमूत्र 500 रुपये लीटर और गाय का गोबर 500 रुपये किलो बिक रहा है। पश्चिम बंगाल के एक दूध विक्रेता का कहना है कि कोलकाता से 20 किलोमीटर दूर सड़क किनारे एक दूकान लगाई, जहां वह गोमूत्र और गोबर बेचता है. रिपोर्ट के अनुसार विक्रेता माबूद अली ने बताया कि दूध के मुकाबले उसे ज्यादा कमाई गोमूत्र और गाय के गोबर में हो रही है। गोमूत्र और गाय का गोबर 500 रुपए में बेचा जा रहा है।

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच दीपिका पादुकोण ने विराट कोहली को किया चैलेंज

यहाँ से मिला आइडिया-

अली ने अपनी दूकान पर एक पोस्टर भी चिपकाया है। जिस पर लिखा है- ‘गोमूत्र पियें और कोरोना वायरस से बचें’। अली ने बताया कि दिल्ली में आयोजित हिन्दू महासभा की एक पार्टी से उन्हें यह आइडिया मिला। अली ने बताया कि उनके पास दो गायें हैं। एक देशी और एक जर्सी। जब उन्होंने टीवी गोमूत्र पार्टी देखा तो उन्हें आइडिया मिला कि वह गोमूत्र और गोबर बेचकर अधिक फायदा उठा सकते हैं।

अली के स्टाल में एक लीटर गोमूत्र और जर्सी गायों के एक किलो गोबर सस्ती दर पर उपलब्ध हैं। इस पर उनका कहना है कि एक जर्सी गाय भारतीय गाय की तरह शुद्ध नस्ल नहीं है इसलिए, इसके गोमूत्र भी ज्यादा मांग नहीं है। अली का कहना है कि शुरुआती प्रतिक्रिया अच्छी रही है। मैं इस व्यापार को जारी रखने की कोशिश करूंगा।

बीजेपी नेता ने दावा किया था गौमूत्र-गोबर से ठीक हो सकता है कोरोना-

बीते दिनों लक्सर से भाजपा विधायक संजय गुप्ता ने दावा किया था कि वैदिक परंपराओं के अनुसार हवन यज्ञ और गौमूत्र-गोबर का प्रयोग इसका इलाज है। विधानसभा परिसर में मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा था कि हमारी हिन्दू संस्कृति विश्व की महान संस्कृति है। हवन-पूजन में जिस सामग्री का उपयोग होता वह वातावरण से हानिकारक तत्वों को चुटकियों में नष्ट करने की ताकत रखती है। इसी प्रकार गोमूत्र सेवन और प्रभावित स्थान पर गोबर के प्रयोग से भी कोराना वायरस को खत्म किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि गाय पृथ्वी का सबसे पवित्र और चमत्कारिक जीव है। उसके हर अंश में अमृतमयी औषधियां बसी हैं।

ये भी पढ़ें: सावधान खाताधारक: अगर ऐसा नहीं किया तो बंद हो जायेगा अकाउंट

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App