भारत में 5 हजार से अधिक कोरोना केस, इस मामले में अमेरिका, स्पेन, चीन और ईरान को छोड़ा पीछे

भारत में इस वायरस के केस की संख्या को 100 से 1,000 तक पहुंचने में 15 दिन लगे थे। लेकिन दुख की बात है कि भारत इस प्रदर्शन को आगे वाले दिनों में बरकरार नहीं..

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने की रफ़्तार दुनिया के अन्य देशों के मामले में धीमी थी। यहां इस वायरस के केस की संख्या को 100 से 1,000 तक पहुंचने में 15 दिन लगे थे। लेकिन दुख की बात है कि भारत इस अच्छे प्रदर्शन को आगे वाले दिनों में बरकरार नहीं रख सका।

WHO की हर दिन की रिपोर्ट्स को देखने से पता चलता है कि 1,000 का आंकड़ा पार करने के बाद भारत को 5,000 केस तक पहुंचने में केवल 9 दिन लगे। सिर्फ यही नहीं बल्कि, यहां 5,000 केस तक पहुंचने में जो मौतों का आंकड़ा है, वो कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले कुछ देशों से भी ज्यादा है।

ये भी पढ़ें: अब इनके लिए राहत पैकेज: मोदी सरकार जल्द करेगी एलान, पहले से भी होगा बड़ा

विश्व स्वास्थ्य संगठन की डेली रिपोर्ट के अनुसार भारत में बुधवार की दोपहर तक कोरोना वायरस केसों की संख्या 5,200 को पार कर चुकी थी। 9 दिन पहले तक ये आंकड़ा 1,071 था। मतलब देश में 9 दिन में ही कोरोना के केस पांच गुना बढ़ गए। पांच हजार केस पहुंचने तक मृत्यु के आंकड़े को देखें तो भारत विश्व में आठवें नंबर पर है। इस महामारी से कई ऐसे देश हैं जो बुरी तरह से प्रभावित हैं, जिनमें अमेरिका, ईरान, स्पेन और चीन शामिल हैं, जिनमें पांच हजार केसों तक मौतों का आंकड़ा भारत से कम रहा है।

पांच हजार केस तक मौतें

स्वीडन एक ऐसा देश है जहां पांच हजार केस पहुंचने तक मौत का आंकड़ा सबसे तेज रहा। 3 अप्रैल को स्वीडन में 5,466 कोरोना वायरस केस सामने आए। तब तक स्वीडन में 282 मौत हो चुकी थीं। उस समय स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टीफन लोफवेन ने कहा था कि देश को शायद हजारों की संख्या में मौत देखनी पड़ें। नीदरलैंड्स की बात करें तो इस मामले में स्वीडन के बाद दूसरा नंबर है। यहां पांच हजार केस तक पहुंचने में मौतों का आंकड़ा 276 रहा। स्वीडन और नीदरलैंड के बाद इस कड़ी में इटली (234), यूके (233), बेल्जियम (220), डेनमार्क (203) और ब्राजील (207) का नंबर आया।

ये भी पढ़ें: क्यों लक्ष्मण ने किया श्रीराम की आज्ञा का उल्लंघन, ये जानते हुए कि उनको मिलेगा मृत्युदंड

इस कड़ी में भारत आठवें स्थान पर है। भारत में पांच हजार केस क्रॉस करने के बाद मौतों की संख्या 149 रही। इतने केस तक मौतों की स्थिति के मामले में भारत के बाद फ्रांस (148), ईरान (145), स्पेन(136), चीन (132) और अमेरिका (100) का नंबर है।

एक हजार से पांच हजार केस तक दूसरे देश की रफ़्तार-

8 अप्रैल को 27 देश ऐसे थे जहां कोरोना वायरस के केसों का आंकड़ा पांच हजार को पार कर चुका है। वहीं भारत ने एक हजार केस के आंकड़े को पार किया था तो दुनिया में 42 देश ऐसे थे जहां 1,000 केस की संख्या पार हो चुकी थी। इस महामारी के केंद्र चीन के बारे में बात करें तो इसने काफी हद तक स्थिति काबू में कर ली है। चीन ऐसा देश रहा जो 1,000 केस से 5,000 तक सबसे तेज यानि महज 4 दिन में ही पहुंचा।

ये भी पढ़ें: सफदरजंग की 2 महिला डॉक्टरों पर हमला करने के आरोप में एक गिरफ्तार: दिल्ली पुलिस